Breaking Tube
Lifestyle

अगर आप भी हैं डार्क सर्कल्स की समस्या से परेशान, तो अपनाएं ये आसान Tips

लाइफस्टाइल: आज कल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग अपने काम काज में इतने व्यस्त हो गए हैं कि उनकी जिंदगी में उनके पास खुद का ख्याल रखने का भी समय नहीं है. सेहत का ठीक से ख्याल रखना किसी चुनौती से कम नहीं है. कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल जैसी चीजों पर 10 से 12 घंटे बैठकर काम करने से आँखों की मांसपेशियों को भी काफी तकलीफें झेलनी पड़ती है जिससे आँखे रूखी हो जाती है.


ऑफिस में काम करने वाले डेस्क जॉब कर्मचारियों को इस तरह की तकलीफ झेलना पड़ता है. आँखों के चारों तरफ काले घेरे होने की वजह से यह समस्या परेशानी का कारण बन जाता है. काले घेरे यानी डार्क सर्किल की वजह से कई तकलीफें होने लगती है. डार्क सर्कल का मतलब है कि आंखें और उसके आसपास की मांसपेशियां कमजोर हो रही हैं. लिहाजा आपको इसके लेकर सावधान हो जाना चाहिए.


खीरे की थैरेपी-
आँखों के नीचे होने वाले डार्क सर्किल की वजह से चेहरा बेजान सा लगने लगता है, ऐसा होने की वजह से चेहरा देखने में भी ख़राब लगने लगता है, इसलिए खीरे का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए खीरे के टुकड़े को आंखों के ऊपर रखें. कुछ देर तक आंख बंद रखने के बाद डार्क एरिया पर इसे हल्के-हल्के घुमाएं. ऐसा करने से आंख के आसपास का थुलथुलापन कम होने के साथ आंखों के नीचे का कालापन भी दूर होगा.


रोगन बादाम मसाज-
रोगन बादाम के इस्तेमाल के लिए रात को सोने से पहले आधा चम्मच रोगन बादाम, तीन बूंद आरेंज आयल और दो बूंद शहद को मिला लें. इस मिश्रण को तर्जनी उंगली में लेकर आंखों के चारों ओर हल्के-हल्के से गोलाई में मालिश करें. इससे काफी लाभ मिलेगा और आंखों के नीचे का कालापन धीरे धीरे दूर होने लगेगा.


टी-बैग्स-
डार्क सर्कल्स पर इस्तेमाल किए गए टी-बैग्स का इस्तेमाल भी किया जा सकता है. टी-बैग्स में मौजूद तत्व, टैनिन आंखों के आसपास की सूजन और डार्कनेस को कम करता है.


फिट डाइट-
अपने आहार में दूध, दही, सिट्रस फ्रूटस, दालें, हरी-सब्जियां, अंकुरित अनाज आदि लें. इसके अलावा अपने खाने में ज्यादा से ज्यादा कलरफुल फूडस जैसे येलो बेल पेपर, रेड बेल पेपर, टमाटर आदि को शामिल करें. इससे आंखें के नीचे काले घेरे को दूर करने में आपको मदद मिलेगी.


भरपूर नींद-
हमारी त्वचा खुद भी आराम की जरूरत होती है. इसलिए इसकी खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए एक गहरी नींद की बहुत जरूरत होती है. कम सोने या कच्ची नींद की वजह से भी आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स हो सकते हैं. इसलिए यह बेहद जरूरी है कि आप रात में 6-7 घंटे की गहरी नींद जरूर लें.


Also Read: दिन की शुरुआत में न करें ये गलतियां, आज से ही बंद करें ये Bad Habits


Also Read: चेहरे के मुहासों से लेकर इन रोगों में भी लाभकारी हैं केले का छिलके, बस ऐसे करें इस्तेमाल


Also Read: वजन कम करने के साथ इन बीमारियों में भी लाभकारी है जीरे का पानी, जानिए इसके बेजोड़ फायदे


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अगर आप भी रात में जाते हैं बार-बार टॉयलेट, तो भीतर पनप रही है ये गंभीर बीमारी

Satya Prakash

शोध में खुलासा: खुली सतहों पर 2 दिन और हवा में इतने घंटे जिन्दा रहता है जानलेवा Corona Virus

Satya Prakash

खाना खाने के तुरंत बाद न करें इन चीजों का सेवन, भुगतना पड़ सकता है भारी नुकसान

Satya Prakash