Breaking Tube
Lifestyle Social

World Ocean Day 2021: दुनिया में प्रोटीन उपलब्ध कराने से लेकर जलवायु को भी बैलेंस करता है महासागर, जानिए इसके अनेकों फायदे

लाइफस्टाइल: आज 8 जून को दुनियाभर में वर्ल्ड ओशियन डे 2021 यानी विश्व महासागर दिवस मनाया जा रहा है. इस दिन हर किसी को समुद्र की साफ़ सफाई के प्रति जागरूक करने के लिए प्रेरित किया जाता है. इस अभियान के दौरान समुद्र के तट पर फैलाए जाने वाले कूड़े कचरे की सफाई के लिए लोगों को प्रेरित करते हैं. महासागर दिवस मनाए जाने के पीछे लोगों का कितना बड़ा उद्देश्य होता है यह लोगों का जानना बहुत जरूरी होता है. महासगरों से उन्हें कई तरह की दवाइयां मिलती हैं जिसमें कैंसर तक की दवाइयां शामिल हैं. इसलिए सभी लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि वह महासागर के अस्तित्व को बनाए रखने और इनके सरंक्षण में अपना योगदान दें.


थीम-
विश्व महासागर दिवस 2021 की थीम है. जिसमें महासागर में मौजूदा लाइफ और लाइवलीहुड से जुड़े तथ्यों के बारे में आम लोगों को जागरूक करना और उनकी जानकारी लोगों को देना जरूरी माना जा रहा है. महासागर ही एक ऐसी सम्प्रदा है जो दुनिया में प्रोटीन उपलब्ध कराने का सबसे बड़ी जरिया है. महासागर आर्थिक स्थिति को मजबूत करने और रोजगार देने में भी अहम भूमिका निभाता है. समुद्र हमें काफी कुछ देता है जिसमें सी फूड, मूंगा, ऑक्सीजन, भोजन और हवा शामिल है. इससे जलवायु में भी बैलेंस बना रहता है. समुद्र से मिलने वाला सी फूड (Sea Food) पोषक तत्वों से भरपूर होता है. सी फूड एजिंग को भी काफी धीमा कर देता है.


क्या है सी फूड-
महासागर में कई तरह के खाद्य पदार्थ मिलते हैं जैसे कि मछलियां, केकड़ा, प्रॉन को सी फूड कहा जाता है. झींगा, क्रेब्‍स, केकड़ा, स्क्विड, ओएस्टर और मछली सी फूड की श्रेणी में आते हैं. सी फूड नॉन-वेज होता है.


सी फूड के पोषक तत्व-
समुद्र से मिलने वाले सी फूड में ऐसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी होते हैं. ये पोषक तत्व अन्य खाद्य पदार्थों में नहीं पाए जाते हैं. सी फूड में सेलेनियम और विटामिन ई मुख्य रूप से पाए जाते हैं. इसके अलावा समुद्र में पाए जाने वाले खाद्य पदार्थों में प्रोटीन भी उचित मात्रा में पाया जाता है. सी फूड में विटामिन ए, बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, विटामिन डी, सेलेनियम, जिंक, आयोडीन और आयरन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है. शरीर पर एजिंग का प्रभाव रोकने के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड काफी फायदेमंद होता है. मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड अधिक मात्रा में पाया जाता है.


सी फूड कैसे है हेल्दी-
-कुछ खास मछलियां सेहत के लिए बहुत ही अच्छी होती हैं जिनमें टूना फिश, आर्कटिक चार, स्ट्रिपड बास, सर्दिनेस, पर्च, कॉड, अलास्कन सालमन का नाम शामिल है.
-कॉड फिश में फॉस्फोरस, नियासिन, विटामिन B 12 अधिक मात्रा में पाया जाता है.
-अलास्कन सालमन में ओमेगा 3 फैटी एसिड अधिक मात्रा में पाया जाता है जो कि स्किन पर बढ़ती उम्र का प्रभाव नजर आने नहीं देता.


Also Read: खाने में जरूर शामिल करें सलाद, इम्यूनिटी और पाचन संबंधी बीमारियों से दिलाता है छुटकारा


Also Read: कोरोना काल में खुद को रखना है हेल्दी और Fit, तो लाइफस्‍टाइल में शामिल करें ये 5 आदतें


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

राम मंदिर के लिए RSS की आज से ‘संकल्प रथ यात्रा’, 9 दिनों तक देशभर में लोगों से मांगेंगे समर्थन

BT Bureau

इन 5 सुपरफूड को खाने से स्ट्रेस और डिप्रेशन से मिलेगा छूटकारा

Satya Prakash

योग से रहें सदैव निरोग, लेकिन बरते ये सावधानी वरना होगी ये परेशानी

Satya Prakash