UP: लखनऊ DM अभिषेक प्रकाश की संवेदनशीलता से बचीं दो जिंदगियां, सोशल मीडिया पर लोग बोले- ऐसे अफसर हर जगह हों तो बात ही क्या

जनमानस की सेवा और शासन-प्रशासन की व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए देश में जब यूनियन पब्लिक सर्विस जैसा कमीशन बनाया गया, तब यही अपेक्षा रही होगी कि यहां से निकलने वाला शख्स आम हितो के लिए काम करेगा, लेकिन देखते ही देखते सिस्टम में अफसरशाही की सोच घर गई. आयोग ने भले आज भी अपने नाम में ‘सर्विस’ लगाए रखा हो लेकिन यहां से पासआउट होने वालों में अब ये भावना विरले ही देखने को मिलती है. वहीं मंगलवार को यूपी की राजधानी में कुछ ऐसा देखना को मिला जिसने हमारे भीतर प्रशासनिक अधिकारियों को लेकर बनी छवि को तोड़ने का काम किया है.

दरअसल, जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश (Lucknow DM Abhishek Prakash) किसी जरूरी विजिट से लौट रहे थे तभी रास्ते में कैंट स्थित मरीमाता मंदिर अहियामऊ के पास उन्होंने एक उल्टा पड़ा रिक्शा देखा, यह भी देखा कि वहां से गुजरने वाले लोग एक नजर देखकर बढ़ते जा रहे थे. डीएम ने फौरन गाड़ी रूकवाई और उतरकर देखा तो रिक्शा चालक और रिक्शा सवार घायल अवस्था में कराह रहे थे. इसके बाद वे बिना कोई देरी किए अपनी गाड़ी से दोनों घायलों को सिविल हॉस्पिटल लेकर गए.

अस्पताल पहुंचकर जिलाधिकारी ने खुद डॉक्टरों से बात की और साथ ही ये सुनिश्चित किया कि घायलों का अच्छे तरीके से इलाज हो. दोनों घायल अब ठीक हैं और खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं. घायलों की पहचान 55 साल के धनीराम (निवासी मोहनगंज कैंट रोड) और 50 साल के गुड्डू (निवासी पुराना किला) के रूप में हुई है.

जैसे जी यह मामला चर्चा में आया सोशल मीडिया पर लोग डीएम अभिषेक प्रकाश की सराहना करने लग गए. इन्हीं में एक यूजर वरिष्ठ पत्रकार ज्ञान प्रकाश लिखते हैं, “लखनऊ में मरी माता मंदिर के पास एक रिक्शा चालक को अज्ञात वाहन टक्कर मार कर निकल गया. उधर से निकले @AdminLKO ने देखा तो रिक्शा चालक को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया. ऐसे ही संवेदनशील अफसर हर जगह हो तो बात ही क्या. ज्ञान ने बतौर हैशटैग #एक_डीएम_ऐसा_भी इस्तेमाल किया.

Also Read: आम जनता को समर्पित कर दिया खुद को मिला सरकारी आवास, रूकने व खाने की पूरी व्यवस्था, नाम रखा ‘देवरिया सेवा सदन’, योगी के विधायक की पहल को मिल रही सराहना

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )