Breaking Tube
News

WhatsApp की नई पाॅलिसी को लेकर एक्शन में मोदी सरकार, कंपनी की बढ़ सकती है परेशानी

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp की प्राइवेसी को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. अब इस मामले को लेकर सरकार ने भी दखल दे दी है. WhatsApp की अपडेटेड प्राइवेसी पॉलिसी का केंद्र सरकार परीक्षण कर रही है और यह जांचने की कोशिश कर रही है कि इसका क्या प्रभाव पड़ने वाला है.


वाट्सऐप की अपडेटेड प्राइवेसी पॉलिसी में वाट्सऐप यूजर के डेटा को फेसबुक के अन्य प्रॉडक्ट्स और सर्विसेज से जोड़ने को लेकर लगातार बहस जारी है. आईटी मिनिस्ट्री में फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वाट्सऐप की नई पॉलिसी के प्रभाव पर आंतरिक चर्चा (इंटर्नल डिस्कशंस) चल रही है. लगातार घट रहे यूजर्स के बाद WhatsApp की आने वाले दिनों में और परेशानी बढ़ सकती है.


Times of India की रिपोर्ट के मुताबिक WhatsApp के नए Privacy Policy पर केंद्र सरकार की नजर है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार WhatsApp के नए Privacy Policy की वजह से प्राइवेसी के उल्लंघन की जांच कर रही है जिसमें यूजर्स से उनके कुछ बिजनेस और लेन-देने के डिटेल्स मांगे गए हैं.


रिपोर्ट के अनुसार WhatsApp के Data policy को लेकर आईटी मंत्रालय में High Level चर्चा हुई है. केंद्र सरकार सभी घटकों से बातचीत के बाद ही कोई कदम उठाएगी. केंद्र सरकार नए डेटा मामले को गंभीरता से ले रही है. बताया जा रहा है कि डेटा मामले में सरकार WhatsApp से सवाल जवाब कर सकती है.


WhatsApp ने अपडेट की पॉलिसी

WhatsApp की नई पॉलिसी के तहत यूजर्स की जानकारी को कंपनी की पेरेंट कंपनी Facebook के साथ साझा किया जाएगा. कहा तो यह भी जा रहा है कि यूजर्स की जानकारियों को Facebook के सहयोगियों के साथ भी शेयर किया जाएगा. इस डाटा में यूजर्स की लोकेशन, यूसेज पैटर्न, फोन नंबर, कॉन्टैक्ट लिस्ट आदि जैसी कई जानकारी शामिल होंगी.


कंपनी की इस पॉलिसी से यूजर्स काफी नाखुश हैं और प्लेटफॉर्म को छोड़कर अपना विरोध जता रहे हैं. इस पॉलिसी का विरोध कई एंटरप्रेन्योर, प्राइवेसी एडवोकेट्स और एजेंसियों द्वारा किया गया है. इसका विरोध इतना बढ़ गया था कि गूगल प्ले स्टोर के टॉप चार्ट में WhatsApp को पीछे छोड़ Signal ऐप पहले पायदान पर पहुंच गया था.


WhatsApp ने दी पॉलिसी पर सफाई

WhatsApp के FAQ पोस्ट में कंपनी ने एक पोस्ट किया है जिसमें बताया गया है कि WhatsApp किसी भी यूजर के प्राइवेट मैसेज नहीं देख सकती है. साथ ही कॉल्स भी नहीं सुन सकती है. WhatsApp इस बात की जानकारी नहीं रखती है कि यूजर किसे मैसेज और कॉल कर रहा है. जो लोकेशन आप अपने दोस्त या परिजन को भेज रहे हैं कंपनी उसे भी नहीं देख सकती है. WhatsApp यूजर के कॉन्टैक्ट्स को Facebook के साथ शेयर नहीं करती है. WhatsApp ग्रुप्स प्राइवेट ही रहेंगे. यूजर्स मैसेज टू डिस्पीयर का चुनाव आगे भी कर पाएंगे. यूजर्स अपना डाटा डाउनलोड कर पाएंगे.


Also Read: नई पॉलिसी के बाद यूजर्स छोड़ रहे WhatsApp, जानिए Facebook, Telegram और Signal पर आपका डेटा कहां और कितना सेव होता ?


 ( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

पश्चिम बंगाल: RSS कार्यकर्ता, गर्भवती पत्‍नी और 8 साल के बेटे की धारदार हथियार से काटकर हत्‍या

BT Bureau

The Fantastic Goddesses – The Good reputation for Zelda

Jitendra Nishad

बीजेपी MLA की बेटी की शादी को लेकर बड़ा खुलासा, महंत बोले- फेक है मैरिज सर्टिफिकेट, हमारे मंदिर में न तो शादी होती, न ही कोई सर्टिफिकेट दिया जाता

BT Bureau