पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ ने माना पुलवामा हमले में जैश का हाथ, बोलें- मुझपे भी जैश ने हमला किया था

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने यह स्वीकार किया है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) का हाथ है. एक निजी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में मुशर्रफ ने पुलवामा आतंकी हमले पर दुख व्यक्त किया और इसकी निंदा की. मुशर्रफ ने कहा, ‘यह भयानक है. हमें खेद है और हम इसकी निंदा करते हैं. मेरी इससे कोई सहानुभूति नहीं है. मुझपर जैश ने हमला किया था. मुझे नहीं लगता कि इमरान खान को जैश के साथ कोई सहानुभूति होगी. हालांकि मुशर्रफ ने दृढ़ता से कहा कि हमले में पाकिस्तान की कोई भूमिका नहीं थी.’


मुशर्रफ ने कहा, ‘मौलाना ने इसे किया. जैश ने इसे किया लेकिन इसके लिए पाकिस्तानी सरकार को दोष नहीं देना चाहिए. सारी जानकारी जुटाने के लिए एक संयुक्त जांच दल होना चाहिए. यदि इसमें सरकार शामिल है तो यह खेदजनक होगा.’ देश के आर्थिक संकट का जिक्र करते हुए पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, ‘जिस परिस्थिति में पाकिस्तान है, मुझे नहीं लगता कि सरकार ऐसी स्थिति में आएगी.’


Also Read: गिरिराज सिंह बोले- विकट समय में भारत के हितों को कमजोर करने वाले महबूबा मुफ्ती जैसे को ‘गद्दार’ जरूर कहेंगे


जेईएम को करना चाहिए पाकिस्तान में प्रतिबंधित

परवेज मुशर्रफ ने आगे कहा कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन जेईएम के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए. उसे प्रतिबंधित कर देना चाहिए. पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला किया गया था. इस हमले की जिम्मेदारी जेईएम ने ली थी और आत्मघाती हमलावर की पहचान कश्मीरी युवक आदिल अहमद डार के तौर पर हुई थी.


Also Read: कुलभूषण जाधव को फंसाने के लिए ICJ में पाकिस्तान ने The Quint और The Indian Express के लेखों को बनाया सबूत


इंटेलिजेंस एजेंसियों के अनुसार जिस आरडीएक्स का उपयोग बस पर हमला करने के लिए किया गया था उसे रावलपिंडी में पाकिस्तानी सेना द्वारा खरीदा गया था और जेईएम के ऑपरेटर्स को सौंपा गया था. आरडीएक्स को एकत्रित करने की प्रक्रिया मार्च 2018 से शुरू हुई थी और बैगपैक, सिलेंडर और कोयला बैग के जरिए विस्फोटकों की तस्करी त्राल में महिलाओं और बच्चों के जरिए की गई थी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here