Breaking Tube
Police & Forces

UP: 5 करोड़ का बंगला बनवा रहे प्रभारी निरीक्षक, लग्जरी गाड़ी लेकर घूम रहे सिपाही, BJP विधायक की शिकायत से उड़ी DGP की नींद

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी (Barabanki) जिले का जैदपुर थाना (Jaidpur police station) इन दिनों सुर्खियां बटोर रहा है। वजह हैं इस थाने में तैनात थानेदार और कांस्टेबल। बीजेपी के रामनगर विधायक शरद अवस्थी ने डीजीपी को पत्र लिखकर इस थाने में तैनात पुलिसकर्मियों की शिकायत की है। बीजेपी विधायक का आरोप है कि जैदपुर थाने पर तैनात 2 प्रभारी निरीक्षकों में से एक लखनऊ में 5 करोड़ का बंगला बनवा रहा है, जबकि दूसरा अपनी मनमर्जी चलाकर मोटी कमाई कर रहा है। विधायक का यह भी आरोप है कि यहां तैनात सिपाहियों के पास एक से एक लग्जरी गाड़ी और आलीशान मकान हैं। विधायक के आरोपों और शिकायत ने अब डीजीपी की उड़ा दी है।


बीजेपी विधायक के मुताबिक, जैदपुर थाने में तैनात इन कांस्टेबलों का ट्रांसफर होने के बाद भी ये इसी थाने पर जमे हुए हैं। यही वजह है कि यह थाना जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि, मामले का खुलासा होने के बाद तीन कांस्टेबल तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिये गए हैं। लेकिन, आलाधिकारी मामले में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।


Also Read: लखनऊ: कोरोना संकट के बीच रोकी गई पुलिसकर्मियों की सैलरी, सामने आई ये वजह


सूत्रों ने बताया कि बीजेपी विधायक शरद कुमार अवस्थी ने जैदपुर थाने पर तैनात प्रभारी निरीक्षक अमरेश सिंह बघेल और धनंजय सिंह समेत वहां तैनात कॉन्स्टेबल गजेंद्र सिंह, सर्वेश सिंह और मोहम्मद शाहनवाज पर गंभीर आरोप लगाते हुए डीजीपी को पत्र लिखकर शिकायत की है। विधायक ने आरोप लगाया है कि जैदपुर थाने पर तैनात प्रभारी निरीक्षक अमरेश सिंह बघेल ने अपनी मनमर्जी करके खूब कमाई की है और इसी कमाई से लखनऊ में पांच करोड़ का आलीशान बंगला बनवा रहा है।


Also Read: रामपुर: SP शगुन गौतम को कार से कुचलने की कोशिश, बाल-बाल बचे


उन्होंने दूसरे प्रभारी निरीक्षक धनंजय सिंह पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। शरद अवस्थी ने बताया कि थाने में तैनात तीन सिपाहियों का मार्च महीने में ट्रांसफर हो गया था। इसके बावजूद तीनों अभी भी थाने में पर ही जमे हुए हैं। विधायक के मुताबिक एसपी द्वारा किए गए तबादले में कांस्टेबल गजेंद्र सिंह का तबादला फतेहपुर, कांस्टेबल सर्वेश सिंह का तबादला घुंघटेर और कॉन्स्टेबल मोहम्मद शाहनवाज को जहांगीराबाद थाने भेजा गया था। लेकिन, ये तीनों जैदपुर थाने पर ही तैनात होकर ड्यूटी कर रहे थे।


उन्होंने आरोप लगाया है कि इन तीनों सिपाहियों पर दोनों प्रभारी निरीक्षकों अमरेश सिंह बघेल और धनंजय सिंह ने अपना हाथ रखा हुआ है और इन्हीं दोनों के कहने पर अवैध उगाही का धंधा चल रहा है। बीजेपी विधायक ने डीजीपी को पत्र लिखकर इन सभी पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही इन सभी की संपत्ति की जांच इनकम टैक्स से करवाने की मांग भी की है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

STF के सिपाही कादिर का कमाल, मस्जिद में आतंकी जलीस की पहचान पुख्ता करने के लिए साथ पढ़ी थी नमाज

BT Bureau

वर्दी में दिखी मां की ममता, थाने में कराई बच्चों को मौज मस्ती, खूब दुलारा, बांटी चॉकलेट्स

BT Bureau

गोंडा: लॉकडाउन का पालन कराने पहुंची कोबरा मोबाइल टीम पर लोहे की रॉड से हमला, 2 सिपाही घायल

Jitendra Nishad