Breaking Tube
Police & Forces UP News

कानपुर एऩकाउंटर: सिपाही सुल्तान का था जन्मदिन, घर में 7 साल की बेटी कर रही थी इंतजार, पापा नहीं शहादत की खबर आई

कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों में एक सिपाही सुल्तान सिंह भी शामिल थे। इनका अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव में हुआ। जिस दिन सिपाही सुल्तान शहीद हुए उसी दिन उनका जन्मदिन भी था। उनके घर पर राजकीय सम्मान के साथ श्रद्धांजलि देकर उनकी वीरता को नमन किया गया। इस दौरान कई बड़े अफसर भी वहां मौजूद रहे। सिपाही के परिवारजनों का रो रो कर बुरा हाल है।


जिस दिन शहीद हुए उसी दिन था जन्मदिन

जानकारी के मुताबिक, बृहस्पतिवार की रात सिपाही सुल्तान दोस्तों के साथ जन्मदिन मनाकर घर पहुंचे थे। इसी बीच अपराधियों के यहां दबिश देने का फोन आते ही वह तैयार होकर टीम के साथ निकल गए। इसी बीच गोली लगने के बाद वह शहीद हो गए। शहादत की खबर मिलते ही परिवार के साथ-साथ गांव में मातम छा गया।


Also read: कानपुर मामले पर DGP बोले- हमने परिवार के 8 लोग खोए, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जायेगा


मुठभेड़ में शहीद हुए उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान सुल्तान सिंह का पार्थिव शरीर देर रात उनके घर पहुंचा। भोजला के गांव के निवासी शहीद सुल्तान सिंह को गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम सलामी दी गई और फिर उनका धार्मिक विधि-विधान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान पुलिस महानिरीक्षक सुभाष सिंह बघेल, जिलाधिकारी आंद्रा वामसी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डी प्रदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक नगर राहुल श्रीवास्तव और पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राहुल मिठास सहित पुलिस विभाग के तमाम बड़े अधिकारी मौजूद रहे।


2006 में हुए थे भर्ती

थाना सीपरी बाजार के भोजला गांव निवासी सुल्तान सिंह वर्ष 2006 मेें पुलिस विभाग में चयनित हुए थे। बचपन में ही मां का निधन हो जाने के बाद से वह मऊरानीपुर के दमेले मोहल्ले में नाना के साथ रहते थे। यहां से पढ़ाई पूरी पुलिस में भर्ती हुए। यहां के बुंदेलखंड विद्या मंदिर इंटर कालेज से हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की थी। अग्रसेन महाविद्यालय से स्नातक की शिक्षा ग्रहण की। साल 2006 में भर्ती होने के बाद उनकी पहली पोस्टिंग औरेया में हुई थी। इसके बाद कानपुर में पोस्टिंग होने के बाद वह अकेले ही रहते थे। वर्तमान में पत्नी व बेटी उरई में झांसी रोड स्थित राजनगर में मायके में थीं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मैनपुरी: एसपी ऑफिस में इस्तीफा देने पहुंची महिला सिपाही, कहा- अब और बर्दाश्त नहीं होता, थानेदार मनमानी तरीके से…

S N Tiwari

पति फंसा था नोएडा में, बरेली से प्रेगनेंट बीवी की गुहार पर पुलिस ने किया कुछ ऐसा कि बोली- खाकी में आप हैं भगवान

BT Bureau

हरदोई: शिफ्ट खत्म करके देर रात पैदल घर जा रही थी लड़की, देखकर SP ने रुकवाई गाड़ी, ऑफिस स्टाफ को चेतावनी देकर कराया कैब का इंतजाम

Shruti Gaur