Breaking Tube
Police & Forces UP News

बिकरू कांड : विकास दुबे और जय बाजपेयी को संरक्षण देने वाले 4 पुलिसकर्मियों के खिलाफ मिले सबूत, होगी कार्रवाई

कानपुर में हुये बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे और उसके खजांची जय बाजपेयी को संरक्षण देने के वाले चार पुलिस वालों के खिलाफ आईबी को सबूत मिल गयें हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि जल्द ही इनके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है. वैसे तो इन दोनों को संरक्षण देने के मामले में 34 पुलिसकर्मियों का नाम सामने आया था, लेकिन इनमे से चार के खिलाफ अब पुख्ता सबूत मिल गए हैं.


जाँच में हुआ खुलासा

जानकारी के मुताबिक, आईबी की जांच में ये बात सामने आई है कि चार पुलिसकर्मियों ने मिलकर दुर्दांत अपराधी विकास दुबे और जय बाजपेयी के गुनाहों पर शुरुआत से ही पर्दा डाला है, जिससे उनकी हिम्मत और ज्यादा बढ़ती गयी. आईबी ने इस मामले की रिपोर्ट लखनऊ यूनिट को सौंपी है. चारों का नाम सामने आने के बाद इनके खिलाफ गहनता से जांच की गयी, तब जाकर मामले का खुलासा हुआ.


Also Read : विकास दुबे का साथ देने वाले 48 पुलिसकर्मियों पर होगी कार्रवाई, नोटिस जारी


जांच में इस बात का पता लगाया गया कि इनके कार्यकाल के दौरान कितने अपराध हुए. वहीँ इन चारों की सम्पत्ति के बारे में भी पता लगाया गया. चारों के खिलाफ आईबी को पुख्ता सबूत मिल गए हैं. जिसके आधार पर अब इनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. आईबी ने अफसरों ने कहा है कि इन चारों के खिलाफ जो भी सबूत मिला है वो उसे लखनऊ यूनिट को उपलब्ध करा देंगे.


इतने पुलिसकर्मी निकले दोषी

एसआईटी की जांच में ये बात सामने आई थी कि 48 पुलिसकर्मियों ने विकास दुबे व उसके गैंग के सदस्यों के शस्त्र लाइसेंस बनवाने में मदद की. बता दें एसआईटी ने पहले 37 पुलिसकर्मियों को दोषी ठहराया. इसमें इंस्पेक्टर, दरोगा और सिपाही शामिल हैं. इसके बाद जांच में 11 सीओ के नाम भी सामने आए.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

प्रतापगढ़ में दलितों हमला: सीएम योगी सख्त, मुख्य आरोपी उल्फत अली समेत सभी पर लगेगा गैंगस्टर

BT Bureau

बरेली: दिव्यांग छात्र ने की पराली जलाने की शिकायत तो इंस्पेक्टर ने दी रासुका लगाने की धमकी, DGP ने किया तलब

Shruti Gaur

हाथरस कांड: SIT ने यूपी सरकार को सौंपी रिपोर्ट, पुलिस और अधिकारियों की भूमिका पर खड़े किए सवाल

Jitendra Nishad