Breaking Tube
Police & Forces

मेरठ: परिवार दो दिनों से है भूखा जानकर पसीजा इंस्पेक्टर का दिल, अपने घर से मंगवाकर दिया राशन

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरे देश को लॉक डाउन किया गया है, ताकि वायरस अपने पैर ना पसार सके। ऐसे में सबसे ज्यादा दिक्कत उन लोगों के सिर पर आन पड़ी है जोकि रोज की कमाई से घर चलते हैं। ऐसे लोगों की मदद को यूपी पुलिस आगे आ रही है। ताजा मामला मेरठ जिले का है, जहां इंस्पेक्टर ने ना सिर्फ एक पूरे परिवार को खाना खिलाया फिर राशन मंगवाकर उन्हें रुपए देकर घर भी भेजा। मामले की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं हैं।


मेरठ का है मामला

जानकारी के मुताबिक, लॉक डाउन के इस समय में सबसे ज्यादा दिक्कत पर परेशानी गरीबों और मजदूरों को हो रही है। बहुत से लोग ऐसे हैं जो मजदूरी करके ठेला लगाकर अपना घर चलते थे। ऐसे समय में अब उनका रोजगार ठप्प पड़ा हुए है। मेरठ के कंकरखेड़ा में भी इमरान नाम का व्यक्ति अपने परिवार के साथ रहता है, अचानक सुबह वह अपनी पत्नी और चारों बच्चों के साथ खाना ढूंढने निकल पड़ा। वह घूमते घूमते कंकरखेड़ा थाने पहुंच गए।


Also Read : Corona Virus से बचने को लोग डायल कर रहे UP 112, कुछ ही घंटों में आयीं 142 कॉल्स


जहां मौजूद थाना प्रभारी विजेंद्र पाल सिंह राणा ने इमरान की पूरी व्यथा सुनी। जिसके सुनकर वो भी परेशान हो गए। इमरान ने बताया कि मजदूरी न चल पाने के कारण उनका पूरा परिवार दो दिन से भूखा है, उनके घर में खाना बनाने के लिए राशन नहीं है। उनके बच्चे बहुत परेशान हैं। इस तरह तो वह और उसका परिवार जिंदा नहीं रह पाएगा। मजदूर का दर्द सुनकर थाना प्रभारी बिजेन्द्र पाल सिंह राणा ने पूरे परिवार को अपने ऑफिस में बैठाया और तुरंत अपने घर से राशन मंगाकर दिया। थाना प्रभारी ने अपनी तरफ से इमरान को 500 रुपये भी दिये।


एक थाना प्रभारी का ये रूप देख कर इमरान कोई आंखे भर आयी। मैं थाने जाने से पहले अपने इलाके के पार्षद से मिला था तो उन्होंने मेरी कोई मदद नहीं की और उल्टा मेरे पर ही आरोप लगाने लगे कि मैं शराबी हूं। मेरे बच्चे भूखे मर रहे थे तो मेरे पड़ोस में रहने वाले पड़ोसियों ने मेरी मदद की। मैं अल्लाह दुआ करूंगा कि कंकरखेड़ा थानाध्यक्ष की तरक्की हो और अल्लाह उनकी हिफाजत करे।


हर सम्भव मदद कर रही पुलिस

बता दें कि जनता कर्फ्यू से ही यूपी पुलिस के अफसरों ने पुलिस टीम को ये आदेश दिया था कि लोगों की हर संभव मदद की जाए ताकि किसी को घर से बाहर निकलना ना पड़े। ऐसे में अपने अधिकारी की बातों को मानते हुए पुलिसकर्मी पूरे लगन के साथ अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं। वो ना सिर्फ लोगों को जागरूक कर रहे हैं, बल्कि हर सम्भव मदद भी कर रहे हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

CRPF जवानों को भी लगी PUBG की लत, देश की सुरक्षा के लिए खतरा

S N Tiwari

पुलिस को स्मार्ट बनाने व आतंरिक समस्याओं को दूर करने के लिए अयोध्या SSP आशीष तिवारी सम्मानित, मिला ‘उत्कृष्ट योगदान पुरस्कार’

BT Bureau

दिल्ली के थाने में तैनात है यूपी पुलिस की महिला सिपाही, पीछे की कहानी जानकर रह जाएंगे हैरान

Shruti Gaur