Breaking Tube
Police & Forces Social

इटली की महिला पत्रकार ने वाराणसी पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप, SSP बोले- हम करेंगे आपकी मदद

Italian woman journalist serious charges against Varanasi police

उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) जिले की पुलिस के ऊपर इटली की महिला पत्रकार फ्रांसेस्का मरीनो (Female journalist Francesca Marino) ने गंभीर आरोप लगाए है. महिला पत्रकार फ्रांसेस्का ने वाराणसी पुलिस (Varanasi Police) की कार्यप्रणाली को सवालों के कठघरे में लाकर खड़ा कर दिया है. फ्रांसेस्का मरीनो ने अपने ट्वीट में आरोप लगाया है कि वाराणसी पुलिस (Varanasi Police) उनके द्वारा गोद लिए गए भाई-बहन को झूठे मुकदमे में फंसा रही है. इसके बाद एसएसपी वाराणसी ने महिला पत्रकार को अपना नंबर ट्विटर पर शेयर करते हुए उनसे संपर्क करने और मदद का आश्वाशन देने को कहा है.


Also Read: कानपुर: फर्जी IPS का चोला ओढ़े घूम रहा था आरोपी, नीली बत्ती लेकर 6 महीनों तक लोगों को बनाया बेवकूफ


महिला पत्रकार फ्रांसेस्का मरीनो ने अपने ट्वीट में लिखा है कि उन्होंने संध्या और राम नाम के 2 बच्चों को बहुत पहले गोद ले लिया था और उन्हें अपने साथ इटली ले गईं. संध्या के बड़े होने पर उन्होंने उसकी शादी बनारस में ही करा दी. इस बीच राम ने भी बनारस की ही रहने वाली लड़की से शादी की इच्छा जाहिर की, लेकिन उन्हें यह रिश्ता पसंद नहीं आया.



Also Read: उन्नाव जेल में असलहा लहाराते हुए मेरठ के बदमाशों का Video वायरल, कैदी दे रहे सीएम योगी को धमकी


फ्रांसेस्का का कहना है कि उनका डर सही साबित हुआ. शादी के बाद राम की पत्नी न तो बनारस स्थित घर आई और न ही वह इटली आई. जब राम ने उसे घर आने के लिए कहा तो उसने साफ़ मना कर दिया. इसके बाद जब राम ने तलाक माँगा तो उससे शादी के खर्च के 5 लाख सहित 7 लाख रुपयों की डिमांड हुई. शादी के समय राम द्वारा दहेज मांगे जाने के आरोप को फ्रांसेस्का ने सिरे से नकार दिया है.


Also Read: मेरठ में मुस्लिमों के आतंक से हिन्दुओं का पलायन शुरू, 125 परिवारों ने छोड़ा घर


फ्रांसेस्का ने अपने ट्वीट में बताया कि पैसों की यह डिमांड अब बढ़कर 10 लाख रुपयों तक जा पहुंची है. इस बीच राम की पत्नी ने राम और संध्या के खिलाफ दहेज़ उत्पीड़न, घरेलू हिंसा और दहेज का सामान हड़प लेने का मुकदमा दर्ज करा दिया गया है. जबकि संध्या उस समय भारत में ही नहीं थी और न ही राम की पत्नी उसके घर रहने आई थी.


Also Read: मेरठ: आशिक मिजाज मो. फैज़ ने की छात्रा को किडनैप करने की कोशिश, दे रहा फोटो एडिट कर सोशल मीडिया पर डालने की धमकी


फ्रांसेस्का ने झूठे आरोप लगाते हुए कहा है कि भेलूपुर पुलिस ने लड़की वालों से पैसे लेकर राम और संध्या के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कर लिया है. मेरे संपर्क किया तो पुलिस ने पैसा देकर इस मामले में समझौता करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया. साथ ही भेलूपुर पुलिस ने उन्हें इस मुकदमे के FIR की कॉपी भी नहीं दी है. फ्रांसेस्का को जब हल निकलता नहीं दिखा तो उन्होंने इसे ट्वीट किया है. इस मामले में उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह और स्मृति ईरानी से मदद की गुहार लगाई है.


This image has an empty alt attribute; its file name is VARANASI-POLICE-6.jpeg

Also Read: वाराणसी: लव जिहाद का आरोप लगा वकीलों ने युवक-युवती को पीटा, कोर्ट मैरिज करने कचहरी पहुंचा था जोड़ा


फ्रांसेस्का मरीनो (Francesca Marino) द्वारा वाराणसी पुलिस की कार्यप्रणाली को भ्रष्ट बताने के बाद एसएसपी आनंद कुलकर्णी (SSP Anand Kulkarni) ने अपना परिचय देते हुए अपना सीयूजी नंबर उन्हें उपलब्ध कराया है और उनसे सीधा संपर्क करने को कहा है. इस संबंध में एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि इटली की महिला पत्रकार फ्रांसेस्का मरीनो का एक ट्वीट हमें प्राप्त हुआ है. उन्होंने बताया कि इस ट्वीट के संबंध में हमने भेलूपुर थाने में पता लगवाया है, फिलहाल राम के विरुद्ध दहेज़ उत्पीड़न और गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज है. जिस संबंध में सीओ भेलूपुर अनिल कुमार को जांच के लिए कहा गया है. निष्पक्ष जांचके बाद जो तथ्य सामने आएंगे उस पर जरूर कार्रवाई की जाएगी.



( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

मुरादाबाद: सिपाही की जमीन पर दबंग कर रहे कब्जा, विरोध पर गोली से उड़ाने की दे रहे धमकी

Shruti Gaur

चुनावी ड्यूटी से बचने के लिए अजीबोगरीब बहाने बना रहे कार्मिक, किसी की सास मरी तो कोई पक्षी को दाना डालने की बीमारी से है पीड़ित

S N Tiwari

आगरा: अब शोहदों की खैर नहीं, स्कूलों के पास कॉलेज गर्ल बनकर तैनात होंगी महिला सिपाही

Shruti Gaur