Breaking Tube
Police & Forces UP News

कानपुर: बुलेट पर ‘दुबे जी’ लिखवाकर घूम रहे थे दारोगा जी, कट गया 5000 का चालान

कुछ दिन पहले ही योगी सरकार ने एक नया कानून बनाया था. जिसके अंतर्गत अपनी गाड़ी पर जातिसूचक शब्द लिखवाना दंडनीय अपराध की श्रेणी में आ गया था. कानून लागू होने के बाद से ही ऐसे लोगों पर कार्रवाई शुरू हो गयी जो अपनी गाड़ियों पर ऐसे शब्द लिखवाये थे. इन कार्रवाइयों के बावजूद कानपुर में एक दारोगा बेधड़क अपनी बुलेट पर ‘दुबे जी’ लिखवाकर घूम रहे थे. अब थाना प्रभारी ने दरोगा का 5000 का चालान काटते हुए उनकी गाड़ी से स्टिकर हटवाया है.


ये है मामला

जानकारी के मुताबिक, यूपी सरकार ने कुछ समय पहले ही ये नियम लागू किया था कि कोई अपनी गाड़ी पर जातिसूचक शब्द नहीं लिखवा सकता. बावजूद इसके कानपुर जिले के शिवराजपुर थाने में तैनात दारोगा पवन दुबे ने अपनी बुलेट पर ‘दुबे जी’ लिखवाया था. इतना ही नहीं, वह ये जातिसूचक शब्द लिखवा कर बाइक से शहर भर में घूम रहे थे.


जब उनके थाना प्रभारी को मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने तत्काल ही एक्शन ले लिया. थाना इंचार्ज ने जानकारी दी है कि दारोगा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनकी बाइक से ‘दुबे जी’ का स्टिकर हटवा दिया है और 5000 रुपये का चालान भी काटा गया है.


also read: यूपी: नंबर प्लेट पर ‘जाति’ सूचक शब्द को लेकर परिवाहन विभाग सख्त, होगी सख्त कार्रवाई


दिए गए थे ये आदेश

गौरतलब है कि यूपी में कार-बाइक, बस-ट्रक ही नहीं ट्रैक्टर और ई-रिक्शा तक पर ‘ब्राह्मण’, ‘क्षत्रिय’, ‘जाट’, ‘यादव’, ‘मुगल’, ‘कुरेशी’ लिखा हुआ दिख जाता है. जिसकी वजह से इसके खिलाफ कार्रवाई की आवाज उठी. ये बात सामने आने के बाद यूपी के अपर परिवहन आयुक्त मुकेश चंद्र ने ऐसे वाहनों के खिलाफ तुरंत अभियान चलाने का आदेश दिया है. जिन वाहनों पर जातिसूचक शब्द पाए गए, उनके खिलाफ अभियान चलाते हुए धारा 177 के तहत चालान या फिर गाड़ी सीज करने की कार्रवाई की जाएगी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

श्री राम के राज्याभिषेक के लिए अयोध्या का हो रहा 16 श्रृंगार, देखें Pictures

BT Bureau

यूपी: तनावमुक्त होकर स्वस्थ माहौल में काम कर सकें पुलिसकर्मी, हर माह थानों में लगेंगे मेडिकल कैंप

Shruti Gaur

‘कहीं मत जाना, प्रियंका गांधी आ रही है, मीडिया का जुगाड़ करता हूं..कहना मुआवजा लेने के लिए दबाव बनाया गया’, हाथरस कांड का चौंका देने वाला Audio

BT Bureau