Breaking Tube
Police & Forces

लखनऊ: पुलिस कमिश्नर करने जा रहे सिस्टम में बड़ा बदलाव, तय होगी हर किसी की जवाबदेही

राजधानी लखनऊ के पहले पुलिस कमिश्नर सुजीत (Lucknow police commissioner) पांडेय सिस्टम में बड़ा बदलाव करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि हमारी प्राथमिकता स्मार्ट और जवाबदेह पुलिस की होगी। मेट्रोपोलिटन सिटी की तरह क्राइम ब्रांच को अपग्रेड किया जाएगा। महिलाओं में पुलिस की संवेदनशीलता बढ़ायी जाएगी। वहीं, पुलिस कमिश्नर को यह चिंता भी है कि पुलिस को जो अधिकार दिए गए हैं, उनका गलत इस्तेमाल न हो।


ऐसे में पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि पुलिस की कार्रवाई न्यायसंगत होगी, ऐसे लोगों को अधिकार सौंपे जाएंगे जिनका कोई व्यक्तिगत स्वार्थ न हो। उन्होंने यह वादा भी किया है कि अधिकार मिलने से पुलिस निरंकुश नहीं होगी। बता दें कि सुजीत पांडेय ने लखनऊ कमिश्नर का कार्यभार बुधवार को संभाल लिया। डालीगंज स्थित ज्येष्ठ पुलिस अधीक्षक का कार्यालय ही कमिश्नर आफिस बना।


Also Read: आगरा: IG का कप्तानों को सख्त आदेश, समय से करें समस्याओं का निस्तारण, लापरवाही बर्दाश्त नहीं


गार्ड ऑफ ऑनर की सलामी लेने के बाद कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि नए सिस्टम में किसका क्या कार्य होगा, क्या जिम्मेदारी होगी। उसका ब्लूप्रिंट तैयार हो गया है। कहा कि क्राइम ब्रांच अधिक प्रभावी होगी। आने वाले समय में स्मार्ट पुलिस, रिस्पांसेबल पुलिस, एक प्रोफेशनल पुलिस होगी। क्राइम के खिलाफ कानून का सख्ती से पालन होगा। किसी भी कमिश्वरी के लिए आपको क्राइम क्रिमिनल को लेकर टीम वर्क करना पड़ता है।


उन्होंने कहा कि कोशिश होगी कि क्राइम ब्रांच विशेषज्ञों की टीम बने। हो सकता है इसमें तीन महीना तक लग जाए। मान लिजिए यदि कहीं बैंक लूट हो जाए तो उसका गैंग कहां का होगा, या फिर साइबर क्राइम होने पर जांच करने वाले को यह पता होना चाहिए कि हैकिंग क्या होती है। हर काम हर किसी को नहीं दे सकते। कमिश्नर ने माना कि पुलिस में हर स्तर पर वैल्यू एडिशन करना होगा। हर स्तर को जवाबदेह बनाना होगा। उससे हम नहीं मुकर सकते।


साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि चाहे मैं हूं चाहे मेरे नीचे कोई हो। यह कोई नहीं कह सकता कि मेरी ड्यूटी 10 में से पांच बजे की है। यह बर्दाश्त नहीं होगा। कल भी मीटिंग में मैने साफ कहा है कि यह 24 घंटे सप्ताह के सात दिन हम ड्यूटी पर रहेंगे। कमिश्नर सुजीत पांडेय मानते हैं कि क्राइम और क्रिमिनल मेरे लिए चुनौती रहेगी। यह महानगर है क्राइम होगा लेकिन उससे निपटने के लिए जितनी दक्षता होनी चाहिए, वह पुलिस में जरूर आनी चाहिए। उसके लिए हम सिस्टम बनाएंगे।


यही नहीं, पुलिस कमिश्नर ने कहा कि नए अधिकारों को लेकर पुलिस को प्रशिक्षण व ढेर अभ्यास कराया जाएगा। पुलिस को लेकर आम लोगों के भय में ढाई साल में कमी आयी। हम जितना भागेंगे उतना पब्लिक डरेगी। हम जितना जनता के मित्र होंगे, सिस्टम उतना अच्छा होगा।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

दसवीं में फेल होने पर स्कूल से निकाला गया था, आज हैं अलीगढ़ के एसएसपी

S N Tiwari

मेरठ जोन में एनकाउंटर का सिलसिला जारी, 25-25 हजार के दो इनामी बदमाशों को गाजियाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

BT Bureau

हरदोई: दारोगा ने सिपाही के साथ मिलकर UP-100 के सिपाहियों को बुरी तरह पीटा, महकमे में हड़कंप

BT Bureau