Breaking Tube
Police & Forces

मेरठ: खिदमत, खाना, खून के बाद अब आर्थिक मदद को आगे आई UP Police, वेतन में कटौती कर राहत कोष में दिए 50 लाख

कोरोना वायरस से निपटने के लिए हर कोई अपना अपना योगदान दे रहा है। ऐसे ने मेरठ पुलिस ने पूरे पचास लाख रुपए इक्कठा करके पीएम के हेल्प फंड में भेजा। जिले के एसएसपी अजय साहनी ने 50 लाख का चेक एडीजी प्रशांत कुमार को सौंपा। यह पैसा पुलिसकर्मियों की इच्छा से उनके वेतन में कटौती करके जमा किया गया है। ऐसे में इन पुलिसकर्मियों की लिस्ट में एक ओर नेक काम जुड़ गया।


एडीजी को सौंपा चेक

जानकारी के मुताबिक, हर कोई पीएम राहत कोष में अपना अपना योगदान दे रहा है ताकि लॉक डाउन की वजह से किसी भी तरह की दिक्कत ना आए और साथ ही कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज अच्छे से हो जाए। इसी के अन्तर्गत मेरठ पुलिस ने अपने वेतन में कटौती कर मुख्यमंत्री राहत कोष में 50 लाख की धनराशि दी है। गुरुवार को एसएसपी अजय साहनी और एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने एडीजी प्रशांत कुमार को मुख्यमंत्री राहत कोष के नाम का चेक सौंपा।


Also Read:  Lockdown में लोगों की ऐसे मदद करेगी UP Police, DGP ने दी जानकारी


इसी के साथ बता दें कि एसएसपी अजय साहनी ने इस बात का भी ऐलान किया कि जब तक लॉक डाउन पीरियड चल रहा है तब तक वो गरीबों को खाना भेजेंगे। ताकि कोई व्यक्ति भूखा जा सोने पाए। किसी के घर में अनाज की दिक्कत ना होने पाए। पुलिस लाइन की रसोई से हर रोज पांच हजार पैकेट तैयार किए जा रहे है। उसके अलावा सदर बाजार, कंकरखेड़ा और नौचंदी थाने में भी रसोई चल रही है।


खाना पाने के लिए यहां करें कॉल

एसएसपी ने बताया कि यदि किसी को खाना नहीं मिल रहा है, तो पुलिस के जारी नंबर 9454458044 पर कॉल कर मदद ले सकता है। उसके अलावा भी थाना प्रभारियों के सीयूजी नंबर भी कॉल कर सकते है। जिले की पुलिस ना सिर्फ राशन बांट रही है बल्कि बना बनाया खाना भी लोगों को उपलब्ध कर रही हैं। कई जगह तो खाना बनाने में खुद पुलिसकर्मी भी मदद करते हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बिजनौर: पुलिस और वकील ने आपस में काटे एक-दूसरे के चालान फिर किये रद्द, जानें क्या है पूरा मामला

S N Tiwari

लखनऊ: शराब बिक्री पर ACP बोले- 40 दिन की मेहनत बर्बाद हो रही.. रोक लगे, बाद में मांगी माफी

Shruti Gaur

बरेली: थाने पहुंच कर किसान ने लगाई गुहार- ‘साहब, मेरे घर में भूत आता है मुझे बचा लीजिये’

Shruti Gaur