Breaking Tube
Police & Forces

बरेली: चेकिंग कर रही पुलिस टीम को ट्रक ने रौंदा, दारोगा की मौत, दो सिपाही गंभीर रूप से घायल

उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) जिले में रात पर गश्त करने निकली पुलिस जीप को ट्रक ने टक्कर मार दी. इस हादसे में बिथरी थाने के एसएसआई की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दो सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गए. बता दें कि यह हादसा बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र में बाइपास पर हुआ है. हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया. मृत दारोगा की पहचान दरोगा रणधीर सिंह (Randhir Singh) के रूप में हुई है.


रणधीर सिंह बिथरी चैनपुर थाने में एसएसआई के पद पर तैनात थे और देर रात बाइपास पर परतासपुर के पास एक बेकाबू ट्रक ने पुलिस की खड़ी जीप में पीछे से टक्कर मार दी. टक्कर इतनी जबरदस्त थी की दरोगा रणधीर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो सिपाही घायल हो गए. जिसके बाद घायल सिपाहियों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस की गाड़ी से एक्सीडेंट होने के बाद ट्रक चालक ट्रक मोके पर छोड़कर  फरार हो गया. अब पुलिस ने ट्रक को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है.


जोरदार टक्कर की आई आवाज

घटना के वक्त चश्मदीद हिमांशु ने बताया कि हम लोग ढाबे पर खाना खाने के लिए शहर के आउटर क्षेत्र में आये थे. अचानक टकराने की जोरदार आवाज सुनी जिसके बाद एक सिपाही हम लोगों की तरफ आकर बोला ट्रक ने टक्कर मार दी है. आप गाड़ी हटवा दीजिये. इसके बाद हम लोगों ने पुलिसकर्मियों को हटाया तो देखा कि तीन पुलिसकर्मियों को चोट लगी है, जिन्हें हम अस्पाल लेकर आये तो डॉक्टर ने दारोगा जी को म्रत घोषित कर दिया. दारोगा रणधीर सिंह के परिवार में उनकी पत्नी, एक बेटा, एक बेटी और बूढ़ी मां है. रणधीर सिंह मूलरूप से अमरोहा के रहने वाले थे, लेकिन पोस्टिंग के समय बरेली की आवास विकास कालोनी में परिवार के साथ रहते थे.


टक्कर पर उठे कई सवाल

कुछ पुलिसकर्मियों का कहना है कि कार सवार युवकों को रोका गया था. इसी बीच पीछे से आए ट्रक ने टक्कर मार दी. ऐसे में सवाल उठ रहा कि कार सवार युवकों व ट्रक चालक के बीच क्या संबंध था. वारदात के पीछे दोनों का जुड़ाव तो नहीं. दूसरी ओर पुलिस अधिकारी कार व उसमें सवार दो युवकों को रोकने की बात से इन्कार किया. कहा कि ट्रक अचानक आया और टक्कर मार दी.


दारोगा के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

दारोगा रणधीर सिंह की सड़क हादसे में ड्यूटी के दौरान हुई मौत की खबर लगते ही उनके परिवार में मातम पसर गया. उनकी पत्नी, मां और बच्चो का रो-रोकर बुरा हाल है. वहीं, घटना की जानकारी होने पर डीआईजी और एसएसपी समेत कई अधिकारी अस्पताल पहुंचे हैं. अधिकारियों ने इस दुख की घड़ी में परिवार को ढांढस बधाया. बता दें कि एसएसआई रणधीर सिंह जिला अमरोहा में थाना धनौरा मंडी के गांव कासिम सराय के रहने वाले थे.


Also Read: प्रयागराज: फरियादी बनकर पहुंचे एडीजी पर पुलिसकर्मियों ने झाड़ा रौब, परिचय देने पर गायब हो गई सिट्टी-पिट्टी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

आजमगढ़: छिप रहे जमातियों पर ईनाम की घोषणा, सूचना देने वाले को 5 हजार रुपये देगी पुलिस

Shruti Gaur

आगरा: जनता की सहूलियत के लिए SSP ने जारी किया व्हाट्सएप नम्बर, कहा- लोग अपनी दिक्कतों के साथ पुलिसकर्मियों के व्यवहार की भी कर सकते हैं शिकायत

Shruti Gaur

लखनऊ: लोगों की मदद को बस स्टैंड पहुंचे DGP, कराई खाने और पानी की व्यवस्था

Shruti Gaur