Breaking Tube
Police & Forces UP News

बिकरु कांड में दर्ज हुए पुलिसकर्मियों के बयान, पूछा गया- विकास दुबे से दोस्ती का क्या मिला फायदा?

कानपुर जिले में हुए बिकरू कांड में चल रही एसआईटी की जांच में कई पुलिस कर्मियों को मुखबिरी का आरोपी बनाया गया था। इन सबके खिलाफ पुलिस टीम को पुख्ता सबूत भी मिले थे। अब सभी आरोपी पुलिस कर्मियों से पूछताछ का सिलसिला जारी हो चुका है। इस दौरान उनसे पूछा गया कि विकास दुबे की मदद करके इन्हे क्या लाभ हुआ और अभी तक उसके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुई। पर, किसी ने भी इस बारे में कोई खुलासा नहीं किया।


अफसरों ने दर्ज किए बयान

जानकारी के मुताबिक, बिकरू कांड में एसआईटी जांच में 23 पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्रारम्भिक जांच की संस्तुति की गई थी। इसके लिए एसपी पूर्वी को नियुक्त किया गया था। वर्तमान एसपी पूर्वी के कार्यकाल में सभी को नोटिस जारी कर बयान दर्ज कराने के लिए कहा गया था। एक दर्जन पुलिस कर्मियों ने बयान दर्ज करा दिए। सख्ती से पूछताछ के बावजूद पुलिस कर्मी इस बात को कबूल करने को तैयार नहीं हैं कि आखिर वो विकास की मदद क्यों कर रहे थे।


Also read: UP के इस कप्तान को मिली 2 जिलों की कमान, जानिए वजह


पुलिस कर्मियों ने नहीं खोले अपने राज़

हालांकि पूछताछ के दौरान आरोपी पुलिस कर्मियों ने अपने कार्यकाल से लेकर उस दौरान चर्चित घटनाओं तक के बारे में जानकारी दी। मगर जब सवाल विकास दुबे को लेकर हुआ तो उससे जुड़ी किसी भी वारदात के बारे में इन लोगों ने अपने बयान में कुछ नहीं कहा। अधिकतर पुलिस वालों का कहना था कि उनके कार्यकाल के समय विकास दुबे ने कभी कुछ किया ही नहीं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

दिल्ली पुलिस ने PFI अध्यक्ष परवेज और सेक्रेटरी इलियास को किया गिरफ्तार, शाहीन बाग में फंडिंग कराने का आरोप

Jitendra Nishad

प्रयागराज: सपा नेता पुनीत पांडेय पर जानलेवा हमला, पैर छूने के बहाने हमलावरों ने की गोली मारने की कोशिश

Jitendra Nishad

निराश्रित और बेसहारा गोवंश को लेकर योगी सरकार गंभीर, बनाएगी 20 गौ संरक्षण केंद

BT Bureau