Breaking Tube
Police & Forces

योगी सरकार ने बजट में UP Police के लिए खोला खजाना, ड्यूटी के वक्त घायल और शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को बड़ी राहत

PPS officer

आज योगी सरकार (Yogi Government) ने 5 लाख 12 हजार 860 करोड़ 72 लाख रुपये का बजट पेश किया है. पिछले वित्तीय वर्ष 2019-20 के मुकाबले इस बार 33 हजार 159 करोड़ रुपये ज्यादा का बजट पेश हुआ. इस बजट में यूपी पुलिस के लिए भी बड़ा खजाना खुल गया है. दरअसल, बजट में न सिर्फ फोरेंसिक यूनिवर्सिटी बल्कि पुलिस आवास, और आधुनिकीकरण के लिए भी करोड़ों रूपये देने का एलान किया गया है.


पुलिस के लिए खुला खजाना

दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने आज अपना चौथा पूर्ण बजट पेश किया. इस बजट में पुलिस विभाग की अनावासीय भवनों के लिये 650 करोड़, पुलिस कॉलोनियों के लिये 600 करोड़, नवसृजित जनपदों में पुलिस विभाग के लिये 300 करोड़, पुलिस अपग्रेडेशन के लिये 122 करोड़, सेफ सिटी लखनऊ योजना के लिये 97 करोड़ और यूपी पुलिस फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी के लिये 20 करोड़ की व्यवस्था की गई है. इसके अलावा भी कई बातों का ध्यान बजट में रखा गया है. जो निम्न हैं…


Also Read : योगी सरकार ने पेश किया इतिहास का सबसे बड़ा बजट, जानिए क्या है आपके लिए खास


अनावासीय भवनों के निर्माण के लिए 650 करोड़ रुपए और आवासीय भवनों के निर्माण के लिए 600 करोड़ रुपए
नवसृजित जिलों में आवासीय व अनावासीय भवनों के निर्माण के लिए 300 करोड़ रुपए
अग्निशमन केंद्र के आवासीय व अनावासीय भवनों के लिए निर्माण के लिए 150 करोड़ रुपए
पुलिस बल आधुनिकीकरएण योजना के लिए 122 करोड़ रुपए
विधि विज्ञान प्रयोगशालाओं के निर्माण के लिए 60 करोड़
सेफ सिटी लखनऊ योजना के लिए 97 करोड़
उत्तर प्रदेश पुलिस फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए 20 करोड़
ड्यूटी के दौरान शहीद या घायल हुए पुलिस एवं अग्निशमन सेवा के कर्मियों के परिवारों को 27 करोड़ रुपए
अग्निशमन सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए 10 करोड़ और अग्निशमन केंद्रों पर बिजली की व्यवस्था के लिए सोलर पॉवर प्लांट्स की स्थापना के लिए 20 करोड़ रुपए
सेंट्रल विक्टिम कंपनसेशन फंड स्कीम के तहत एसिड अटैक, बलात्कार, मानव तस्करी अथवा हत्या के प्रकरणों में आर्थिक सहायता के लिए 28 करोड़ रुपए
स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के लिए 16 करोड़ रुपए
साइबर क्राइम प्रीवेंशन अगेंस्ट वीमेन एंड चिल्ड्रेन के लिए तीन करोड़ रुपए
लखनऊ, गोरखपुर व बदायूं में महिला पीएसी वाहिनियां स्थापित हैं.
प्रदेश में 76 महिला थाना स्थापित हैं. लखीमपुर खीरी में दो महिला थाना व अन्य सभी जिलों में एक-एक महिला थाना है.


Also Read: बेटी की शादी का न्योता देने वाले ट्रॉलीमैन से मिले मोदी, पूछा बेटी-दामाद का हाल तो भर आईं मंगल केवट की आंखें


युवाओं के लिए है ये भविष्य

इसके अलावा वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट की प्रस्तावना पढ़ते हुए गीत गया ‘गैर परो से उड़ सकते हैं, हद से हद दीवारों तक, अंबर तक तो वही उड़ेंगे जिनके अपने पर होंगे’. वित्तमंत्री सुरेश खन्ना बोले 2017-18 का बजट किसानों को समर्पित था. 2018-19 का बजट औद्योगिक विकास व 2019-20 महिला सशक्तीकरण करने वाला था. 2020-21 का बजट युवाओं की शिक्षा, संवर्धन और रोजगार को समर्पित है.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

UP: नए ADG लॉ एंड ऑर्डर के तेवर सख्त, बोले- महिला संबंधी अपराधों में बरती लापरवाही तो खैर नहीं

BT Bureau

मथुरा: एसिड अटैक पीड़ित महिला सिपाही से जुड़े सवाल पूछने पर एसपी सिटी ने रिपोर्टर को दी धमकी

S N Tiwari

इमरान हाशमी के डायलॉग की मदद से UP Police ने यात्रियों को चेताया, ‘रफ्तार की परवाह नहीं करोगे तो जिंदगी बुरा मान जाएगी’

S N Tiwari