Breaking Tube
Police & Forces

UP: पुलिसकर्मियों के साथ दुर्घटना या बीमारी का शिकार होने पर विभाग की तरफ से 7 लाख की मदद का है प्रावधान, इसलिए नहीं मिल पाता लाभ…

उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) विभाग में काम कर रहे कर्मचारियों और अफसरों को मेडिकल भत्ता दिया जाता है, ताकि जरूरत के समय उन्हें दर-दर न भटकना पड़े, लेकिन इस बारे में जानकारी ना होने के कारण पुलिसकर्मी इसका लाभ नहीं ले पा रहे हैं. इसी के चलते सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो रहा है, जिसमें इस बारे में लिखा हुआ है. हालांकि ये लेटर काफी पुराना है लेकिन बावजूद इसके ये पुलिस विभाग के लिए बेहद ही जरूरी जानकारी है.


लोगों को नहीं है नियमों की जानकारी

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) विभाग की तरफ से अगर कभी कोई पुलिस का कर्मचारी या अफसर कभी किसी गम्भीर बीमारी या आकस्मिक दुर्घटना का शिकार होता है तो उसे विभाग की तरफ से आर्थिक सहायता दी जाती है.


Also Read : वाराणसी: फांसी के फंदे पर झूल गयी सिपाही की पत्नी, मायके वालों का आरोप-दहेज़ के लिए प्रताड़ित करता था कांस्टेबल


इसी बारे में जानकारी देते हुए सोशल मीडिया पर एक लेटर वायरल हो रहा है. इस लेटर में लिखा हुआ है कि आपातकालीन समय में पीड़ित को पुलिस विभाग द्वारा कार्यालाध्यक्ष की तरफ से दो लाख और विभागाध्यक्ष की तरफ से पांच लाख तक की धनराशी में मदद करता है.


Also Read :मुजफ्फरनगर: महिला दारोगा ने पीड़िता को दी जहर खाने की सलाह, SSP ने सख्त एक्शन लेते हुए बैठाई जाँच


लोग नहीं उठा पा रहे हैं लाभ

इसी के साथ इस लेटर में यह लिखा हुआ है कि यह देखने में आ रहा है कि नियमों की जानकारी ना होने की वजह से पुलिसकर्मी और अफसर इस सुविधा का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं. इसी के चलते सभी को इस सुविधा के बारे में बताते हुए इस लेटर को वायरल किया जा रहा है.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

डॉन फिल्म के गाने से होली के हुड़दंग में एक्सीडेंट से सचेत कर रही UP Police, भंग का रंग जमा हो चकाचक…, वायरल हो रहा ट्वीट

Shruti Gaur

एटा: भागकर लव मैरिज करने वाली लड़की को परिजनों से बचाने के लिए जान पर खेली महिला सिपाही

S N Tiwari

लखीमपुर: कांस्टेबल ने कमरे में लगाई फांसी, विभाग में मचा हड़कंप

Jitendra Nishad