Breaking Tube
Police & Forces UP News

कानपुर: विकास दुबे के फरार साथी पर ईनामी राशि बढ़ाकर की गई 50 हजार, तलाश में जुटीं टीमें

Kanpur encounter vikas dubey

कानपुर जिले के बिकरू में हुए एनकाउंटर के लगभग सभी आरोपी जेल में हैं। विकास दुबे समेत छह आरोपी पुलिस मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं। पर, इसी जुलाई में हुए एनकाउंटर का आरोपी विपुल दुबे अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर है। आईजी मोहित अग्रवाल ने उसके ऊपर ईनामी राशि बढ़ाकर पचास हजार कर दी है। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि कुछ समय पहले ही उसकी लोकेशन कानपुर देहात में मिली थी।


कौन है विपुल दुबे

जानकारी के मुताबिक, कानपुर जिले में बीते दो जुलाई की रात चौबेपुर के बिकरू गांव में दुर्दांत हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने अपने साथियों के साथ मिलकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। इस मामले के बाद विकास समेत छह लोगों को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया। वहीं 36 आरोपितों को जेल भेजा गया था। विपुल दुबे ही एकमात्र आरोपित है, जो अभी तक पुलिस की पकड़ से दूर है।


Also Read : बुलंदशहर: फांसी से लटका मिला महिला दारोगा का शव, सुसाइड नोट बरामद


कुछ समय पहले ही डीआइजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने आरोपित के खिलाफ 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। उसकी तलाश में कई टीमें लगी हुईं है। सूत्रों के मुताबिक दीपावली के दौरान विपुल गांव आया था और तब उसकी लोकेशन कानपुर देहात की सामने आई थी। एसटीएफ के पहुंचने से पहले ही वह फरार हो गया।


पचास हजार हुई ईनामी राशि

विपुल की लोकेशन मिलने के बाद से एक बार फिर उसे पकड़ने की कवायद तेजी से शुरू हो गई। जिसके अंतर्गत आइजी रेंज मोहित अग्रवाल ने इनाम की राशि बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दी। आईजी ने बताया कि आरोपित को पकड़ने के लिए तीन टीमें लगी हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

लखनऊ: कंधे पे लादकर सिपाही ने युवक को पहुंचाया अस्पताल, जान बचाने में खाकी वर्दी हुई लाल

S N Tiwari

UP में अब ‘अंतर-धार्मिक विवाह’ पर नहीं मिलेंगे 50 हजार रुपए, 44 साल पुरानी स्कीम बंद करने जा रही योगी सरकार

Jitendra Nishad

औरेया सड़क हादसा: मृतक के परिजनों का पुलिस पर आरोप, ग्रामीणों की पत्थरबाजी में 2 महिला सिपाही और सीओ सिटी घायल

S N Tiwari