Breaking Tube
Politics UP News

हाथरस मामले में विरोध करने जुटे कांग्रेसी आपस में ही भिड़े, BJP नेता ने राहुल गांधी से पूछा- क्या वाकई कांग्रेस इस मामले पर गंभीर है?

BJP Spokesperson Ram Kadam

उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले में पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए देश भर में आंदोलन चलाया जा रहा है। कांग्रेस समेत तमाम राजनीतिक दल सरकार से दोषियों को सजा देने और प्रशासन की लापरवाहियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। इस बीच महाराष्ट्र स्थित कोंकण के वसई इलाके का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें हाथरस के मामले पर विरोध प्रदर्शन करने जुटे कांग्रेसियों के 2 गुट आपस में ही भिड़ गए। इस घटना वीडियो ट्वीट कर बीजेपी के राज्य प्रवक्ता (BJP Spokesperson) राम कदम (Ram Kadam) ने कांग्रेस से पूछा है कि क्या वाकई कांग्रेस इस मामले पर गंभीर है?


बीजेपी नेता रामकदम ने वीडियो ट्वीट कर लिखा कि कांग्रेस के गुट विरोध प्रदर्शन वाली जगह पर भिड़ गए, जो उनके असली मकसद को उजागर करता है। बलात्कार की घटना निंदनीय है, लेकिन वसई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के इन आंतरिक झगड़ों पर एक गंभीर सवाल उठता है। क्या वे वास्तव में हाथरस में पीड़ितों के लिए बुरा महसूस करते हैं या फिर वह सिर्फ प्रचार में ही व्यस्त हैं?’ इसमें राहुल गांधी को टैग भी किया गया है।


बता दें कि हाथरस जिले के एक गांव में 14 सितंबर को 19 वर्षीय दलित लड़की से चार लड़कों ने कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया था। इस लड़की की बाद में 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मृत्यु हो गई थी। मौत के बाद आनन-फानन में पुलिस ने रात में अंतिम संस्कार कर दिया था, जिसके बाद काफी बवाल हुआ।


Also Read: ‘पीड़िता को उसके भाई ने ही मारा है’, हाथरस केस में आरोपियों के वकील का दावा


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसआईटी को जांच के लिए 10 दिन का और समय दिया है। यूपी के अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि सीएम योगी के आदेश के बाद एसआईटी को अपनी रिपोर्ट देने का समय 10 दिन बढ़ा दिया गया है।


जानकारी के मुताबिक, एसआईटी ने अपनी जांच पड़ताल में 100 से अधिक लोगों के बयान लिए हैं। इसमें पीड़िता के परिवार के अलावा अभियुक्तों, पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के बयान भी शामिल हैं। इस मामले में कुछ और अधिकारियों के खिलाप भी कार्रवाई की सिफारिश एसआईटी की तरफ से की जा सकती है।


Also Read: हाथरस मामले की जांच कर रही SIT आज नहीं सौंपेगी रिपोर्ट, सरकार ने दी और 10 दिन की मोहलत


इससे पहले एसआईटी की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट सौंपने के बाद सीएम योगी ने हाथरस के एसपी, सीओ समेत 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था। हाथरस कांड के चारों आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अहंकार से चूर अखिलेश अब जुटे अपने ही पिता का माखौल उड़ाने में, अखिलेश जी को मिलेगा चुनावों में जवाब: शलभ मणि त्रिपाठी

S N Tiwari

यूपी: अमित पाठक-राजेश पाण्डेय समेत 23 IPS अफसरों को मिला प्रमोशन, देखें लिस्ट

Shruti Gaur

दिल्ली से प्रेमी दारोगा को खोजते हुए गोरखपुर पहुंची प्रेमिका, इस हाल में लौटी वापस

Jitendra Nishad