Breaking Tube
Politics

योगी सरकार ने 1 करोड़ 9 लाख से ज्यादा परिवारों को अंधेरे से किया मुक्त, सवाल उठाने से पहले विपक्ष अपने गिरेबां में झांके

Shrikant Sharma

उत्तर प्रदेश में जबसे बिजली के दाम बढ़े हैं तब से राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गयी है. विपक्ष हमलावर स्थिति में बना हुआ है तो वहीं सरकार भी बैक फुट पर नहीं दिख रही. शनिवार को ऊर्जा मंत्री श्रीकांत ने सपा, बसपा और कांग्रेस तीनों पर हमला बोला है. उन्होंने प्रदेश में बिजली कंपनियों की खराब हालत के लिए पूर्व की सरकारों को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा बीजेपी सरकार ने 1 करोड़ 9 लाख लोगों से भी ज्यादा परिवारों के घर बिजली पहुंचाकर उन्हें अंधेरा मुक्त किया है. सरकार पर सवाल उठाने से पहले सपा, बसपा और कांग्रेस पहले अपने गिरेबां में झांकें.


Also Read: किसानों की आय बढ़ाने और लोगों को सस्ती बिजली मुहैया कराने के लिए ये है श्रीकांत शर्मा की योजना


शनिवार को श्रीकांत ने ट्वीट कर लिखा, “प्रदेश में @BJP4UP सरकार ने 1 करोड़ 9 लाख से ज्यादा अंधेरे परिवारों को बिजली कनेक्शन देकर अंधेरे से मुक्त किया है। इन परिवारों में रहे 70 सालों के अंधकार की गुनाहगार कांग्रेस अब लालटेन लेकर नाटक कर रही है। @UPGovt पर सवाल उठाने से पहले सपा-बसपा और कांग्रेस अपने गिरेबां में झांकें”



श्रीकांत शर्मा ने अपने एक और ट्वीट में लिखा, “सपा, बसपा और कांग्रेस ने सत्ता में रहते प्रदेश को अंधकार दिया. बिजली कंपनियों को अपने भ्रष्टाचार और अनियमितताओं से गर्त में ले जाने का काम किया. अपनी मनमानियों को छुपाने के लिए उन्होंने बिजली के दाम तो बढ़ाए, मगर अपने चहेते 4 जिलों से आगे कहीं बिजली नहीं दी”



ऊर्जा मंत्री यहीं नहीं रुके एक और ट्वीट कर लिखा, “पूर्व सरकारों की लूट से बिगड़ी बिजली कंपनियों की आर्थिक हालत अच्छी नहीं है. मजबूरीवश बिजली की दरों में हमने लगभग 11.50% की वृद्धि की है, मगर 4.28% का रेगुलेटरी सरचार्ज भी माफ किया है. बिजली आपूर्ति में रिकॉर्ड 40% की बढ़ोतरी करके उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं भी दी हैं”



Also Read: श्रीकांत शर्मा का मायावती पर पलटवार, सपा-बसपा के भ्रष्टाचार से बिजली कंपनियां गईं घाटे में, पहले सिर्फ क़ीमत बढ़ती थी, आज क़ीमत कम बढ़ रही, बिजली भरपूर मिल रही


बता दें कि योगी सरकार ने जबसे बिजली की दरों में 11.50 फीसदी की बढ़ोतरी की है तभी से विपक्ष सरकार पर हमलावर है. बसपा चीफ मायावती और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इसे जनविरोधी करार दिया तो वहीं शनिवार को कांग्रेस ने लखनऊ समेत कई जिलों में लालटेन लेकर सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन किया.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अखिलेश यादव का पीएम मोदी पर हमला, सिर्फ कह देने से सामाजिक न्याय नहीं मिलेगा

Aviral Srivastava

आज अयोध्या जाएंगे पीएम नरेंद्र मोदी, लेकिन इसलिए ‘रामलला’ से रहेंगे दूर

BT Bureau

RSS के संगठन सेवा भारती को अमर सिंह ने दान की 15 करोड़ की संपत्ति, बोले- पूरा देश संघमय हो गया

BT Bureau