Breaking Tube
Politics

उपद्रवियों के निशाने पर थी राम मंदिर और केदारनाथ की झांकी, तोड़फोड़ की तस्वीरें आईं सामने

ram mandir Baba Kedarnath tableau

कृषि कानून के विरोध में 26 जनवरी को ट्रैक्टर मार्च के नाम पर उपद्रवियों ने पूरी दिल्ली में जमकर आतंक मचाया। इन उपद्रवियों ने लाल किले पर लगे तिरंगे को नीचे उतारकर फेंक दिया और अपना झंडा फहरा दिया। इसके बाद काफी देर तक ये उपद्रवी हाथ में तलवार लिए उप्रदव करते रहे। यही नहीं, इन उपद्रवियों ने गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल राम मंदिर (Ram Mandir) और बाबा केदारनाथ (Baba Kedarnath Tableau) की झांकी भी खास तौर पर अपना निशाना बनाया और तोड़फोड़ की।


आजतक से बातचीत के दौरान झांकी की सुरक्षा में लगे दिल्ली पुलिस के जवान विकास ने बताया कि जो कल प्रदर्शनकारी आए थे, उन्होंने विशेष रूप से राम मंदिर और केदारनाथ की झांकी को टारगेट किया। जो राम मंदिर और केदारनाथ के स्टेच्यू लगे थे, उसे तोड़ दिया। राम मंदिर के गुबंद को तोड़ दिया गया। केदारनाथ मंदिर के ऊपर की छतरी को तोड़ दिया गया।


Also Read: राकेश टिकैत के कहने पर हाथियार लेकर दिल्ली पहुंचे थे आंदोलकारी किसान!, सामने आया चौंकाने वाला VIDEO


दिल्ली पुलिस के जवान ने बताया कि यहां पर सुरक्षाकर्मीं मौजूद थे जिन्होनें झांकियों को काफी मेहनत, मशक्कत करने के बाद बचाया नहीं तो पूरी झांकी को तोड़ देते। यानि अगर सुरक्षाकर्मीं न होते तो यह उपद्रवी पूरी झांकी को तहस-नहस कर देते। ऐसे में सवाल तो उठना लाजिमी है कि विरोध तो कृषि कानून का किया जा रहा था तो फिर झांकियों पर हमला क्यों किया गया? राम मंदिर और बाबा केदारनाथ झांकी से इनकी क्या दुश्मनी थी?


बता दें कि पहली बार गणतंत्र दिवस की परेड में अलग-अलग राज्यों और विभिन्न विभागों की झांकियां निकाली गईं। जिसमें अयोध्या की धरोहर, भव्य राम मंदिर की प्रतिकृति, दीपोत्सव की झलक और पौराणिक ग्रंथ रामायण के विभिन्न हिस्सों की झांकी भी निकाली गई। यह झांकी पूरी तरह से राम मंदिर का मॉडल थी। जैसे ही राम मंदिर की झांकी आई तो कई दर्शक अपनी जगह खड़े होकर तालियां बजाने लगे और कई तो हाथ जोड़कर खड़े हो गए। वहीं, कई लोगों के चेहरे पर गर्व का एहसास नजर आया और चेहरे पर मुस्कुराहट दिखी।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

प्रियंका गांधी का योगी सरकार से सवाल, प्रदेश के किस लैब में रोज कितने हो रहे टेस्ट?, 2 दिन से नहीं मिल रहे आंकड़े

Jitendra Nishad

सीएम योगी के गृह जनपद में 14 वर्षीय मासूम की अपहरण के बाद हत्या, अखिलेश-प्रियंका ने साधा निशाना

BT Bureau

यूपी: यहां 20 रुपये किलो में बिक रहा प्याज, सपा नेता ने लगाई ‘समाजवादी प्याज’ की दुकान

S N Tiwari