Breaking Tube
Politics

भड़काऊ भाषण देने वाले AIMIM नेता वारिस पठान के खिलाफ FIR दर्ज, जमकर हो रहा विरोध

कर्नाटक के गुलबर्गा में 19 फरवरी को सीएए विरोधी रैली में लोगों को संबोधित करते हुए भड़काऊ बयान देने वाले AIMIM नेता वारिस पठान (Waris Pathan) अब मुश्किलों में फंसने वाले हैं. दरअसल, दंगा भड़काने के इरादे से लोगों को उकसाने के मामले में केस दर्ज किया गया है. वारिस पठान के इस भाषण की काफी आलोचना भी की जा रही है.


दिया था भड़काऊ बयान

दरअसल, AIMIM के नेता वारिस पठान (Waris Pathan) ने कर्नाटक के गुलबर्गा में 19 फरवरी को CAA के विरोध में एक रैली को सम्बोधित किया था. जिसके अंतर्गत उन्होंने कहा था कि ‘ईंट का जवाब पत्थर से देना अब हम लोग सीख गए हैं, बस हमें एकजुट रहने की जरूरत है. वो हमें बताते हैं कि हमने अपनी महिलाओं को सामने रखा है. अरे केवल शेरनी बाहर आई हैं और आप पहले से ही पसीना बहा रहे हैं. आप समझ सकते हैं कि अगर हम सब एक साथ आए तो क्या होगा. 15 करोड़ हैं मगर 100 करोड़ पर भारी हैं. याद रख लेना.’


Also Read : मायावती ने किया बड़ा ऐलान, 2022 में पार्टी अकेले लड़ेगी विधानसभा चुनाव


इस बयान के बाद राजनैतिक गलियारों में इनके खिलाफ कार्रवाई की मांग उठने लगी थी. AIMIM नेता के बयान के बाद कई राज्यों में उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई गई है.पुलिस ने पठान के खिलाफ दंगा भड़काने के इरादे से लोगों को उकसाने के मामले में आपीसीसी की धारा 117, 153 और विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना के लिए धारा 153A के तहत केस दर्ज किया गया है.


सार्वजनिक बयानबाजी पर ओवैसी ने लगाई रोक

मुंबई और औरंगाबाद में बीजेपी ने वारिस के खिलाफ प्रदर्शन किए और उनसे माफी की मांग की. हालांकि, वारिस पठान माफी ना मांगने पर अड़े हुए हैं. खबर है कि वारिस के खिलाफ माहौल को देखते हुए ओवैसी ने उनकी सार्वजनिक बयानबाजी पर रोक लगा दी है


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )
.

Related news

जानिए एक पोस्टर चिपकाने वाला कार्यकर्ता कैसे बन गया देश का गृहमंत्री

BT Bureau

सेक्स रैकेट में दो बार पकड़ी जा चुकी हैं कांग्रेस में शामिल होने वाली अर्शी खान, पाक प्रेम को लेकर रहीं हैं विवादों में

BT Bureau

Video: कांग्रेस विधायक की सरकारी कर्मचारियों के साथ गुंडागर्दी, इंजीनियर को जड़ा तमाचा फिर कीचड़ से नहलाया

S N Tiwari