Breaking Tube
Crime Politics UP News

लखनऊ: मुख्तार अंसारी के बेटे उमर और अब्बास ईनामी अपराधी घोषित, पुलिस ने रखा 25-25 हजार का ईनाम

Mukhtar Ansari son umar and abbas

उत्तर प्रदेश में बाहुबली विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के खिलाफ एक के बाद एक ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही हैं। अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर मुख्तार अंसारी के साथ ही उसके दोनों बेटों पर भी शिकंजा कसने की तैयारी शुरू हो गई है। राजधानी लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने मुख्तार के दोनों बेटों को इनामी अपराधी घोषित कर दिया है।


पुलिस कमिश्नर के आदेश के मुताबिक, मुख्तारी अंसारी के बेटों उमर और अब्बास पर 25-25 हज़ार का इनाम घोषित किया गया है। दोनों के खिलाफ कुछ दिन पहले अवैध कब्जे के मामले में एफआईआर हुई थी। लखनऊ में उनके अवैध कब्जे वाली दो इमारतों को ढहा भी दिया गया था।


Also Read: मुख्तार गैंग पर एक्शन जारी, पत्नी और उनके भाइयों पर लगा गैंगस्टर एक्ट


इस मामले में जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने मुख्तार अंसारी और उनके बेटे उमर व अब्बास के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में जालसाजी, साजिश रचने, जमीन पर अवैध कब्जा करने के आरोप में केस दर्ज कराया था। सुरजन लाल का आरोप था कि जिस जमीन पर मुख्तार के बेटों ने टॉवर बनवाए थे, वह मो. वसीम की थी।


वहीं, करोड़ों रुपये की अनाधिकृत जमीन से कब्जा हटवाने के बाद प्रशासन ने मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी व उनके साले सरजील रजा और अनवर शहजाद पर गैंगस्टर की कार्रवाई की है। मुख्तार के साथ मिलकर सभी संगठित आपराधिक गिरोह के रूप में अपराध करते है। सभी के खिलाफ गाजिपुर कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।


Also Read: लव जिहाद: दुबई का अफजल बना रमन, युवती को बहन बोलकर बातचीत की शुरूआत, दोस्ती, प्रेमजाल औऱ फिर कानपुर से निकाह के लिए अगवा कर ले गया


बता दें कि योगी सरकार ने मुख्तार अंसारी और उसके गैंग के आर्थिक साम्राज्य पर गहरी चोट की है। अबतक गिरोह की सालाना 48 करोड़ रुपये की आय बंद की जा चुकी है। पुलिस ने वाराणसी जोन के अलग-अलग जिलों में प्रतिबंधित मछली कारोबार, स्टोरेज, गिरोह बनाकर वसूली, कोयला कारोबार, बूचड़खाना समेत अन्य अवैध धंधों पर अंकुश लगाकर तगड़ी चोट दी है। पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक मुख्तार गैंग को मछली कारोबार से ही करीब 33 करोड़ रुपये की सालाना आय होती थी। बाकी आय दूसरे अवैध कार्यों से होती थी।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

राजभर का भाजपा को अल्टीमेटम, कहा- आज शाम तक सीटों पर न हुआ फैसला तो…

S N Tiwari

Video: मिर्जापुर पुलिस ने किया चालान तो फफक-फफक कर रोए BJP नेता, एसपी के सामने जोड़ने लगे हाथ

BT Bureau

Video: जब प्रचार छोड़कर जलती गेहूं की फसल बुझाने दौड़ीं स्मृति ईरानी, हैंडपंप चलाकर ग्रामीणों की मदद

BT Bureau