Breaking Tube
Politics UP News

अखिलेश का जन्मदिन मनाने के चक्कर में उड़ाई सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, SP सांसद डॉ. एसटी हसन और 4 विधायकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

muradabad

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद (muradabad) में समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ. एसटी हसन और चार सपा विधायकों के खिलाफ सिविल लाइन थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। इन सभी पर सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर में जिला अध्यक्ष सहित 20 नेताओं और 25-30 कार्यकर्ताओं को भी आरोपी बनाया गया है।


सूत्रों ने बताया कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का 47वां जन्मदिन मनाने के लिए सपा कार्यालय पर सपा सांसद, विधायक और कार्यकर्ता इकट्ठा हुए थे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किया गया। इसके अलावा सपा सांसद ने सोशल डिस्टेंसिंग पर विवादित बयान भी दे डाला।


ऐसे में पुलिस की तरफ से थाना सिविल लाइं में सब इंस्पेक्टर सर्वेश सिंह ने ये मामला दर्ज कराया है। पुलिस के मुताबिक, धारा 147, 188, 269, 3 51बी में मामला दर्ज किया गया है। एफआईआर के मुताबिक, सपा प्रमुख अखिलेश यादव के जन्मदिन के मौके पर सपा कार्यालय में बिना पूर्व अनुमति के कार्यकर्ताओं को इकट्ठा कर केक काटकर वितरित किया गया। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण उल्लंघन किया गया।


Also Read: समाजवादी पार्टी से जुड़े मिले विकास दुबे के तार, पत्नी ने लड़ा था पार्टी के समर्थन पर चुनाव


सूत्रों ने बताया कि सपा सांसद डॉ. एसटी हसन के साथ ही सपा जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह, विधायक हाजी इकराम कुरैशी, विधायक हाजी रिजवान, पूर्व विधायक हाजी यूसुफ अंसारी, नवाब जान, फईम इरफान, बाबर खां, वसीम कुरैशी, राजेंद्र सिंह, सुशील ठाकुर, हाजी मन्नु कुरैशी, महेंद्र सिंह, जिग्री मलिक, जुबैर अहमद, मोहसिन खान, लालू परवेज, वजूद खान, डीपी यादव और 20 से 25 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

बागपत: बैरियर तोड़कर कर भाग रहे तस्करों ने पुलिसकर्मियों को कुचला, दारोगा- सिपाही घायल

BT Bureau

BJP सांसद बोले- बच्चों की मौत पर लीची को जिम्मदार ठहराना गलत, निर्यात में आई भारी गिरावट

BT Bureau

लखनऊ: बंगाल में हिंसा के विरोध में BJP ने निकाला ‘मौन जुलूस’, प्रदेश में की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

BT Bureau