Breaking Tube
Government Politics

अपना व परिवार का जीवना बचाना हो तो 21 दिन घर से बाहर न निकले, नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा: पीएम मोदी

कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) मंगलवार (24 मार्च) को पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) का ऐलान किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि यह एक तरह से कर्फ्यू ही है. यह जनता कर्फ्यू से तोड़ा ज्यादा सख्त है. कोरोना से लड़ने के लिए उठाया गया यह कदम बहुत आवश्यक है. आपके जीवन को बचाना, आपके परिवार को बचाना मेरी, भारत सरकार की देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की सबसे बड़ी प्राथमिकता है. पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना के फैलते संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन जरूरी है, इसलिए आज रात 12 बजे से पूरे हिंदुस्तान में लॉकडाउन लागू कर दिया जाएगा.


पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है. पीएम ने कहा कि आने वाले 21 दिन हिंदुस्तान के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. स्वास्थ्य एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोरोना के संक्रमण की साइकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है. पीएम मोदी मोदी ने StayInHome पर जोर देते हुए कहा कि आप घर में ही रहें, घर में ही रहें और घर में ही रहें.


पीएम ने कहा कि आप कोरोना वैश्विक महामारी पर पूरी दुनिया की स्थिति को समाचारों के माध्यम से सुन भी रहे हैं और देख भी रहे हैं. आप ये भी देख रहे हैं कि दुनिया के समर्थ से समर्थ देशों को भी कैसे इस महामारी ने बिल्कुल बेबस कर दिया है. कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग केवल बीमार लोगों के लिए आवश्यक है. ये सोचना सही नहीं. सोशल डिस्टेंसिंग हर नागरिक के लिए है, हर परिवार के लिए है, परिवार के हर सदस्य के लिए है.  पिछले दो दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है. सभी को राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए.  सोशल डिस्टेंसिंग पूरे देश के लिए जरूरी है. कुछ लोगों की लापरवाही आपके देश और समाज को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी.


पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे समय में जाने अनजाने कई बार अफवाह भी खूब उड़ती है. आपके द्वारा सरकार के निर्देशों का पालन करना बहुत जरूरी है. इस बीमारी के लक्षणों के दौरान बिना डॉक्टरों की सलाह के कोई दवा ना लें. हर भारतीय संकट की इस घड़ी में सरकार के स्थानीय प्रशासन के निर्देशों का पालन करेगा. 21 दिन का लॉकडाउन लंबा समय है. लेकिन आपके जीवन की रक्षा के लिए आपके परिवार की रक्षा के लिए एक ही उपाय है. मुझे विश्वास हर भारतवासी इस संकट की घड़ी में विजय होकर निकलेगा. आप अपना ध्यान रखिए, अपने अपनों का ध्यान रखिए. आत्मविश्वास के साथ संयम बरतते हुए हम सब इन बंधनों को स्वीकर करें.


Also Read: कोरोना के कहर से गरीबों को बचाने आगे आए योगी, 20 लाख से अधिक मजदूरों के खातों में भेजी 1000 की पहली किस्त


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

किसानों की आय बढ़ाने और लोगों को सस्ती बिजली मुहैया कराने के लिए ये है श्रीकांत शर्मा की योजना

BT Bureau

दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण पर केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

BT Bureau

यूपी: रण में उतरने को प्रियंका गांधी की नई टीम तैनात, देखें घोषित हुए कांग्रेस के नये जिला और शहर अध्यक्षों के नाम की सूची

S N Tiwari