Breaking Tube
Crime Politics UP News

उर्दू अखबारों में विज्ञापन निकालकर ‘शरीयत को संविधान से ऊपर’ बताया, पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अयूब गिरफ्तार

पीस पार्टी (Peace Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अयूब (Dr Ayub) को गोरखपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बकरीद से पहले धार्मिक भावनाओं को भड़काने के आरोप में अयूब की गिरफ्तारी गोरखपुर (Gorakhpur) के बड़हलगंज स्थित उनके घर से हुई. डॉ अयूब पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है. डॉ. अयूब के खिलाफ लखनऊ में हजरतगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था और फिर इसकी सूचना गोरखपुर पुलिस को दी गई थी. इसी सूचना के बाद पीस पार्टी के अध्यक्ष को गोरखपुर पुलिस ने शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया. अयूब पर विवादित पर्चे बंटवाने का आरोप है.


डॉ. अयूब ने बकरीद से पहले लखनऊ में उर्दू के पर्चे बंटवाए थे. उन पर्चों पर अंकित शब्दो को धार्मिक भावना भड़काने वाला बताते हुए हजरतगंज पुलिस ने गोरखपुर पुलिस से सम्पर्क किया जिसके बाद डॉ. अयूब की गिरफ्तारी हुई. अयूब ने उर्दू अखबारों में विज्ञापन निकलवाया कि शरीयत संविधान से ऊपर है, जिसे लेकर काफी बवाल हुआ. डॉ. अयूब पर 153a, 505 और आईटी एक्ट के अंतर्गत FIR दर्ज की गई है. गोरखपुर से गिरफ्तारी होने के बाद लखनऊ पुलिस ने डॉक्टर अयूब राजधानी लखनऊ ले आई. डॉ. अयूब के खिलाफ मुकदमा भी पुलिस ने सोशल मीडिया पर वायरल टिप्पणियों और अखबार में छपे पोस्टर का खुद ही संज्ञान लेने के बाद दर्ज किया था.


बसपा सुप्रीमो मायावती ने डॉ. अयूब की टिप्पणी और अखबार में छपे उनके विवादित पोस्टर पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, “दलित-मुस्लिम एकता का राग अलापने वाले पीस पार्टी के मुखिया डा. अय्यूब द्वारा उर्दू अख़बार के विज्ञापन में बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर के बारे में जो बात कही गई है, वह अति-शर्मनाक, दुर्भाग्यपूर्ण व अति-निन्दनीय, जिसके लिए इनको माफी माँगनी चाहिए”.


Also Read: प्रतापगढ़ में दलितों हमला: सीएम योगी सख्त, मुख्य आरोपी उल्फत अली समेत सभी पर लगेगा गैंगस्टर


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

हाथों में मेहंदी और माथे में सिंदूर लगाकर संसद पहुंचीं नुसरत जहां ने ‘वन्दे मातरम्’ के साथ ली शपथ, स्पीकर के छुए पांव

BT Bureau

यूपी में कांग्रेस की रामधुन, सत्य-अहिंसा संकल्प यात्रा शुरू

Jitendra Nishad

कानपुर: ट्रक के नीचे आने से बाल-बाल बचा सिपाही, फिर ATM हैकर को दौड़ाकर पकड़ा

S N Tiwari