Breaking Tube
Politics

मेरठ: सपा नेता ने महिला डॉक्टर को जबरन कार से खींचा, छेड़छाड़ का विरोध करने पर दूसरे डॉक्टर को पीटा, दी जान से मारने की धमकी

Samajwadi Party leader Pinkal Gurjar threatened to kill him for opposing molestation of Women Doctor in Meerut

उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां एक महिला डॉक्टर (Women Doctor) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. इतना ही नहीं महिला डॉक्टर ने कहा कि विरोध करने पर उसे जान से मारने की धमकी भी दी गई. इस दौरान जब दूसरे डॉक्टर ने इसका विरोध किया तो आरोपी नेता ने अपने साथियों संग मिलकर उस पर लाठी- डंडों से हमला बोल दिया और सड़क पर घसीटते हुए मारपीट की. इसको घटना को लेकर जूनियर डॉक्टर मेडिकल थाने में धरने पर बैठ गए और जमकर हंगामा किया.


Also Read: आगरा: समाजवादी पार्टी के नेता की सरेआम गुंडागर्दी, पैसे मांगने पर गैराज मालिक पर चढ़ा दी कार, Video वायरल


दरअसल, जागृति विहार सेक्टर-4 में स्थित मेडिकल कॉलेज की एक महिला डॉक्टर ने सपा नेता पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. उसका कहना है कि पड़ोस में रहने वाले समाजवादी पार्टी के नेता पिंकल उर्फ टिंकल गुर्जर पुत्र पीतांबर ने उसके साथ कई बार छेड़छाड़ की कोशिश की है. जब इसका विरोध किया तो सपा नेता ने जान से मारने की धमकी दी. महिला डॉक्टर ने बताया रात करीब 10:30 बजे वह कार से अपने घर से ड्यूटी के लिए निकली थी. कुछ दूरी पर ही पिंकल गुर्जर और उनके कुछ दोस्तों ने मिलकर कार को रोक लिया. साथ ही हमें जबरन कार से खींचने की भी कोशिश की गई. कार में बैठे मेडिकल कॉलेज के आॉर्थो सर्जन डॉ. सुजीत कुमार ने इसका विरोध किया था तो आरोपियों ने उनसे भी मारपीट शुरु कर दी. साथ ही देखते-देखते लाठी-डंडों और हॉकी से हमला बोल दिया.


महिला डॉक्टर ने इसका बचाव किया तो उनसे भी मारपीट शुरु कर दी. इस दौरान आसपास के लोगों की भीड़ लगने पर आरोपी धमकी देकर फरार हो गए. घटना के बारे में मेडिकल के प्राचार्य को बताया गया. घटना के बाद इमरजेंसी डॉक्टर, जूनियर डॉक्टर सभी मेडिकल पहुंच गए और आरोपियों पर कारवाई की मांग को लेकर हंगामा कर दिया. इसको लेकर 100 से अधिक डॉक्टर धरने पर बैठ गए.


Also Read: Video: तलाशी लेने पर छात्र के पास नहीं मिली नकल की पर्ची, बौखलाए डिप्टी सुपरिटेंडेंट ने लात-घूंसों से पीटा


इस धरने को देखते हुए एसपी सिटी डॉ एएन सिंह, सीओ सिविल लाइन हरिमोहन सिंह और शहर के कई थानों की पुलिस मेडिकल पहुंची. मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरसी गुप्ता और रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनय कुमार भी वहां मौजूद रहे. धरना पर बैठे डॉक्टरों की मांग है कि आरोपियों को गिरफ्तार कर जानलेवा हमला, छेड़छाड़ और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया जाए.


वहीं, एसपी सिटी ने बताया कि ‘आरोपी पिंकल गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया है. उसके और 4-5 अन्य के खिलाफ जानलेवा हमला समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है. पिंकल एक पार्टी से जुड़ा बताया गया है. जो पहले भी कई बार धमकी दे चुका है. देर रात एसपी सिटी के आश्वासन पर डॉक्टरों ने धरना खत्म किया’.


Also Read: गाजियाबाद: सरकारी मुआवजे के लिए 2 महिलाओं ने दर्ज कराया गैंगरेप का झूठा केस, रची ऐसी कहानी कि उड़ जाएंगे होश


एसओ मेडिकल कुलवीर सिंह ने गिरफ्तार आरोपी पिंकल को हवालात में बंद कर दिया. इस दौरान जूनियर डॉक्टर भी हवालात तक पहुंच गए और आरोपी पर हमले की कोशिश की. जूनियर डॉक्टरों ने कहा कि हवालात खोल दो, यहीं पर बदला देंगे. पुलिस से भी जमकर धक्कामुक्की हुई. उधर, चर्चा रही कि पूरे घटनाक्रम के दौरान सपा नेता के साथ एक वकील भी मौजूद था, लेकिन पुलिस ने इससे इंकार किया.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अखिलेश ने जारी किया सपा का घोषणापत्र, सामाजिक न्‍याय के लिए ‘सवर्णों’ पर लगाएंगे टैक्स

S N Tiwari

मायावती का नया दांव, गरीब मुसलमानों के लिए मांगा आरक्षण

BT Bureau

सपा सांसद आजम खान की पत्नी तजीम फातिमा पर 30 लाख का जुर्माना

BT Bureau