Breaking Tube : #1 News Portal of Uttar Pradesh
Government Politics

समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका, योगी सरकार ने खाली कराया लोहिया ट्रस्ट

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) को बड़ा झटका लगा है. योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शनिवार को सपा के लोहिया ट्रस्ट (Lohia Trust) को खाली करा लिया है. साल 2017 में अखिलेश सरकार ने 10 साल के लिए लोहिया ट्रस्ट को यह बंगला आवंटित किया था. आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव इस लोहिया ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं. जबकि अखिलेश यादव, सांसद रामगोपाल यादव समेत सपा के कई प्रमुख लोग इसके सदस्य हैं.


दरअसल, सेवानिवृत आईएएस अधिकारी एसएन शुक्ला ने सुप्रीम कोर्ट में लोहिया समेत 3 ट्रस्टों को आवंटित बंगलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. याचिका में कहा गया कि ये सभी बंगले अवैध रूप से आवंटित किए गए हैं. याचिकाकर्ता का कहना था कि ट्रस्ट के लिए बंगले का आवंटन 10 साल के लिए किया गया, जबकि संशोधित एक्ट के तहत सिर्फ पांच साल के लिए ही बंगले का आवंटन किया जा सकता है. इस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने अनधिकृत बंगलों को 4 महीने में खाली करने के आदेश दिए थे.


सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद राज्य संपत्ति विभाग ने लोहिया ट्रस्ट को पिछले साल अक्टूबर में बंगला खाली करने का नोटिस जारी किया था. इसके बाद भी बंगला खाली नहीं होने पर लोहिया ट्रस्ट को कई नोटिस भेजे गए थे. हालांकि लोहिया ट्रस्ट ने बंगले को खाली करने के लिए राज्य संपत्ति विभाग से समय मांगा था. लेकिन लंबे समय तक उसे खाली नहीं किया गया. आवंटन रद्द पर लोहिया ट्रस्ट लगातार इसका 70 हजार रुपये किराया दे रहा था. बाजार दर से यह किराया वसूला जा रहा था.


गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी आवास खाली करने का निर्देश जारी किया था. इसके बाद अखिलेश यादव को अपना बंगला छोड़ना पड़ा था. अखिलेश यादव अब तक अंसल सिटी में रह रहे थे. क्योंकि 1-विक्रमादित्य मार्ग स्थित आवास बनकर तैयार हो रहा था. जानकारी के मुताबिक, गृह प्रवेश से पहले सपा अध्यक्ष ने पूजा कराई और उसके बाद नए घर में प्रवेश किया.


Also Read: योगी सरकार ने खत्म किया 4 दशक पुराना कानून, अब सरकारी खजाने से नहीं, सीएम और मंत्री अपनी जेब से भरेंगे टैक्स


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

महाराष्ट्र: पालघर के बाद अब नादेड़ में साधु की बेरहमी से हत्या, आखिर उद्धवराज में क्यों निशाना बन रहे संत ?

BT Bureau

कोरोना: महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई सहित 4 शहरों को पूरी तरह किया बंद

Jitendra Nishad

कुंभ में अखिलेश यादव की ‘गंगा की सौगंध’ शुरू कर सकती है आरक्षण पर नई बहस

BT Bureau