Breaking Tube
Politics

शामली: गाड़ी के कागज़ दिखाने को कहा तो पुलिसकर्मियों को धमकाने लगे SP विधायक नाहिद हसन, Video वायरल

Samajwadi Party MLA Nahid Hasan could not arrested and Police will now apply to court in Shamli

उत्तर प्रदेश के शामली (Shamli) से कैराना (Kairana) के समाजवादी पार्टी विधायक नाहिद हसन (SP MLA Nahid Hasan) की गुंडई का मामला सामने आ रहा है. चेकिंग के दौरान गाड़ी के कागज दिखाने को लेकर सपा विधायक भड़क गए और अधिकारीयों से बदसलूकी पर उतर आये. विधायक के पास गाड़ी के कागज़ नहीं थे उल्टा एसडीएम और सीओ को धमकते हुए कानून का पाठ पढाते नजर आए. इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. घटना के दौरान करीब पानीपत खटीमा हाइवे मार्ग पर घंटो तक जाम लगा रहा. वहीं शामली पुलिस ने नाहिद हसन को मंगलवार को गाड़ी के कागज़ दिखाने का आदेश दिया है.


दरअसल, सोमवार शाम एसडीएम डॉ. अमित पाल शर्मा और सीओ राजेश कुमार तिवारी भूरा रोड पर जा रहे थे. नाहिद कॉलोनी के पास सपा का झंडा लगी एक गाड़ी खड़ी थी. सीओ राजेश तिवारी के अनुसार उनकी नजर गाड़ी की नंबर प्लेट पर गई तो नंबर संदिग्ध था. उन्होंने गाड़ी रुकवाकर चेक की, तो उसमें कैराना विधायक नाहिद हसन भी बैठे थे. उन्होंने गाड़ी के कागजात मांगे, लेकिन विधायक कागजात नहीं दिखा पाए. बचाव में विधायक ने बताया कि वह खेत पर किसी काम से आए हैं, इसलिए कागजात लाने उचित नहीं समझा. वहीं सवाल पूछने पर नाहिद भड़क गए और एसडीएम कैराना अमित पाल और कैराना सीओ राजेश कुमार को जमकर खरी-खोटी सुनाई. वहीं काफी देर तक चले इस हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद दोनों अधिकारियों को खाली हाथ लौट ना पडा. जबकि कैराना एसडीएम अमित पाल ने विधायक को कागज ऑफिस में दिखाने की हिदायत दी. काफी देर तक का चले इस हाईवोल्टेज ड्रामे के दौरान पानीपत खटीमा मार्ग पर काफी देर तक का जाम लगा रहा मौके से विधायक और एसडीएम के जाने के बाद जाम खुला और यातायात को सुचारू रूप से चलता किया.


बता दें कि कैराना विधायक नाहिद हसन पहले भी अधिकारियों से बदतमीजी करने गाली गलौज देने के मामलों में चर्चाओं में रह चुके हैं, लेकिन आज तक नाहिद के खिलाफ कोई भी सख्त कानूनी कार्रवाई नहीं हुई है. जबकि पहले भी कुछ साल पहले एक लेखपाल का अपहरण कर सरकारी कार्य में बाधा डालने और उस और जबरदस्ती काम कराने के मामले में मुकदमा दर्ज हुआ था तो वही कुछ दिनों पहले बीजेपी समर्थक व्यापारियों से समान ना लेने की वीडियो वायरल हुई थी जिसमें कैराना नाहिद हसन विधायक अपने मुस्लिम भाइयों से साफ तौर से मुस्लिमों को बीजेपी समर्थक लोगों से सामान की खरीद फरोख्त ना करने की हिदायत दे रहे थे.


वहीं इस मामले पर शामली एसपी अजय कुमार का कहना है कि गाड़ी का नंबर संदिग्ध होने की वजह से ही सीओ ने कागजात मांगे थे, पुलिस को ये अधिकार हैं, यह एक सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन गाड़ी के कागज नहीं दिखाए गए. मंगलवार सुबह को कागजात दिखाने को कहा गया है.



INPUT- Arjun Sharma


Also Read: Video: ‘मुसलमानों BJP से जुड़े दुकानदारों से सामान न खरीदो, ऐसे इनका घर चलना बंद हो जायेगा’, सपा MLA नाहिद हसन की अपील


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

झांसी: एनकाउंटर में मारे गए खनन माफिया के घर जायेंगे सपा अध्यक्ष, सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा- जातिवादी है अखिलेश यादव

S N Tiwari

मोदी व योगी सरकार गांव, खेत, किसान की सरकार है: स्वतंत्र देव सिंह

BT Bureau

PM मोदी के रोड शो में हुए खर्च पर चुनाव आयोग ने लिया संज्ञान, ले सकता है एक्शन

BT Bureau