Tech News: अब SIM खरीदना नहीं होगा आसान, सरकार ने किया नियमों में बड़ा बदलाव

हम जब कभी भी अपने मोबाइल के लिए सिम खरीदने जाते हैं तो ज्यादा मशक्कत का सामना नहीं करना पड़ता. हम सीधा अपने आस पास के किसी भी लोकर स्टोर पर जाते हैं, और पहचान पत्र के ज़रिए हमें बेहद ही आसानी से सिम अलॉट हो जाता है, और वह कुछ घंटो में एक्टिवेट भी हो जाता है. पर अब भारत सरकार ने इसके लिए भी कुछ नियम लागू कर दिए हैं. दरअसल, जिस तरीके से सरकार ने सिम खरीदने के तरीके में बदलाव किया है उसकी वजह से कुछ ग्राहकों के लिए सिम खरीदना अब पहले से ज़्यादा आसान हो जाएगा, वहीं कुछ लोगों को बड़ी दिक्कत का सामना पड़ सकता है. आइए आपको भी बताते हैं कि, सरकार ने नियमों में क्या बदलाव किया है.

यहां जानें नए नियम

जानकारी के मुताबिक, अब नए सिम लेने के लिए ग्राहक ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं, जिसे उनके घर पर ही डिलिवर कर दिया जाएगा. अब कंपनी नए SIM को उन ग्राहकों को नहीं देगी, जिनकी उनकी उम्र 18 साल के कम है. वहीं दूसरी तरफ अब से 18 साल से ज़्यादा उम्र के ग्राहक आधार या डिजिलॉकर में स्टोर किसी भी डॉक्यूमेंट के साथ अपने नए सिम के लिए खुद को वेरिफाई कर सकते हैं.

इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार है तो उसे भी नया सिम कार्ड जारी नहीं किया जाएगा. अगर ऐसा कोई व्यक्ति नियमों का उल्लंघन करते हुए पकड़ा जाता है तो सिम बेचने वाली दूरसंचार कंपनी को दोषी माना जाएगा. जिसके अंतर्गत उसके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है.

मोबाइल कनेक्शन के लिए करना होगा 1 रूपए का भुगतान

इसके साथ ही यूज़र्स को नए मोबाइल कनेक्शन के लिए UIDAI की आधार बेस्ड E-KYC सर्विस के जरिए सर्टिफिकेशन के लिए सिर्फ 1 रुपये का भुगतान करना होगा. ग्राहकों को मोबाइल कनेक्शन ऐप/पोर्टल बेस्ड प्रोसेस के ज़रिए दिया जाएगा, जिसमें ग्राहक घर बैठे मोबाइल कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

Also Read : Smartphone Tips: स्मार्टफोन इस्तेमाल करते समय भूल कर भी न करें ये गलतियां, वरना भुगतना पड़ेगा खामियाजा 

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )