UNSC में एस जयशंकर ने पाकिस्तानी विदेश राज्यमंत्री हिना रब्बानी खार को जमकर लताड़ा, बोले- सांप भी उन्हें काटेगा, जो इन्हें पालेगा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में भारत ने एक बार फिर पाकिस्तान को करारा जबाव दिया है। विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर (S Jaishankar) ने एक सवाल का जवाब देते हुए पाकिस्तान की विदेश राज्य मंत्री हिना रब्बानी खार (Hina Rabbani Khar) को जमकर लताड़ा। हिना रब्बानी खार ने पहले भारत पर आतंकवाद फैलाने और बलूच उग्रवादियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। इसके बाद एस जयशंकर ने पाकिस्तानी मंत्री को मुंहतोड़ जवाब दिया।

हिना रब्बानी खार को मिला कारारा जवाब

उन्होंने हिलेरी क्लिंटन की एक दशक पुरानी बात याद दिलाते हुए कहा कि अगर आप अपने घर के पीछे सांप पालते हो तो वह सिर्फ पड़ोसी को ही नहीं काटेगा बल्कि आपके घर के लोगों को भी काटेगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को बार-बार कई देशों से सलाह मिलती है लेकिन वह मानने के लिए तैयार नहीं होता है। भारत के खिलाफ जहर उगलने के लिए पाकिस्तान ने बकायदा एक डोजियर तैयार किया है जिसका उपयोग वह अंतरराष्ट्रीय मंचों पर करता है।

Also Read: विदेशों में टीम योगी को भारी समर्थन, स्वीडन और कनाडा जैसे देशों से यूपी में बड़े निवेश को तैयार

पाकिस्तानी पत्रकार की भी बोलती की बंद

दरअसल, एक पाकिस्तानी पत्रकार ने जयशंकर से पूछा कि दक्षिण एशिया कब तक नई दिल्ली, काबुल, पाकिस्तान से आतंकवाद को देखेगा, कब तक वे युद्ध में रहेंगे? इस पर जयशंकर ने कहा कि आप गलत मंत्री से सवाल पूछ रहे हैं। आप पाकिस्तानी मंत्री से पूछिए वह आपको बताएंगे कि पाकिस्तान कब तक आतंकवाद फैलाता रहेगा।

Also Read: विदेशों में योगी की टीम को मिल रहा जोरदार समर्थन, UP में निवेश के लिए 20 हजार करोड़ के MOU साइन

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि स्पैक्ट्रम के दूसरे तरफ अकेले हमला करने वाले लोग हैं जो इन कट्टरपंथी संगठनों से प्रेरित होते हैं, लेकिन इन सबके बीच हम यह नहीं भूल सकते कि पुराने पनाहगाह और स्थापित नेटवर्क आज भी सक्रिय हैं, खासकर दक्षिण एशिया में। आतंकवाद के समकालीन केंद्र आज भी बहुत अच्छी तरह काम कर रहे हैं।

जयशंकर पाकिस्तान के संदर्भ में बोल रहे थे, जो अल कायदा, लश्कर ए ताइबा और तालिबान के आतंकियों को पनाह देता रहा है। बुधवार को जयशंकर ने कहा था कि लादेन को पनाह देने वाले देश को इस मंच पर उपदेश देने का हक नहीं है।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )