Breaking Tube
Social

भ्रष्टाचार: रात में कराई नालों की खुदाई, फिर मजदूरों की मजदूरी चुराई

majdoor

आम तौर एक कहावत कही जाती है कि मेहनत का फल जरूर मिलता है. लेकिन, यहां मजदूरों से रात भर मेहनत करवाने के बाद उन्हें उस मेहनत का फल भी नहीं दिया गया. हम बात कर रहे है भीतरगांव ब्लॉक की ग्राम पंचायत चतुरीपुर की. जहां एक फर्जी नाले की खुदाई का मामला सामने आया है. जिसमें की खुदाई करने के बाद मजदूरों की 46 दिन की मजदूरी हड़पने की बात भी सामने आई है. जब इसके बारें में ग्रामीणों ने शिकायत की तो सीडीओ ने 3 सदस्यीय जांच दल गठित की थी. जिनकी जांच में पाया गया था कि समय पर नाले और तालाब की खुदाई नहीं हुई है.

 

Also Read: 1984 सिख दंगा: नानावटी आयोग की रिपोर्ट में भीड़ का नेतृत्व कर रहे थे कमलनाथ, स्थिति पर काबू पाने की नहीं की थी कोशिश

 

जांच के बाद दिए खुदाई के आदेश

3 सदस्यीय जांच दल गठन के दौरान जब पाया गया कि समय पर नाले और तालाब की खुदाई नहीं हुई है. उसके बाद जांच दल ने गांव के प्रधान व सचिव को 2 दिन के अंदर नाले और तालाब की खुदाई का आदेश दिया था. 2 दिन का समय मिलने के बाद प्रधान व सचिव मजदूरों से रातोरात खुदाई करवा रहे है. जिससे आक्रोशित ग्रामीणों ने इसकी शिकायत एसडीएम से की. एसडीएम ने पूरे मामले को देखते हुए कहा है कि जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती, तब तक खुदाई नहीं कराई जाएगी.

 

Also Read: कक्षा 9th एवं 10th के सामान्य छात्रों के लिए योगी सरकार की बड़ी सौगात, प्रतिवर्ष मिलगी इतने रूपये की छात्रवृत्ति

 

ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर लगाया मनरेगा धांधली का आरोप

ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा है कि भीतरगांव ब्लॉक के ग्राम पंचायत चतुरीपुर के निवासी अमित सचान, राज बाबू, आकाश सचान, भाउ सिंह सचान आदि ने ग्राम प्रधान के साथ मिलकर मनरेगा के कामों में धांधली की है. ग्रामीणों ने बताया कि मजदूरों पर दबाव बनाकर उनसे रातोंरात खुदाई कराई जा रही है.

 

Also Read: यूपी-बिहार के युवाओं को कमलनाथ के मध्य प्रदेश में नहीं मिलेगी नौकरी

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

आधार पर सुप्रीम कोर्ट बोली- आधार कार्ड एकदम सुरक्षित, आधार से गरीबों को ताकत मिली

BT Bureau

PIL MAN Ashwini Upadhyay- The Uncrowned King of Public Interest Litigation

BT Bureau

Video: हनुमान जी की जाति के बाद अब कौरवों के जन्म पर उठे सवाल, आंध्र विश्वविद्यालय के वीसी ने भगवान श्रीराम, विष्णु और लंकापति रावण के बारे में किये ये दावे

BT Bureau