Breaking Tube
Social

यूपी: जानिए क्या होता है हॉटस्पॉट, सील इलाकों में क्या खुला और क्या बंद

कोरोना वायरस (Corona Vurs) के बढ़ते संकमण के चलते उत्तर प्रदेश की योगी आदित्नाथ सरकार (Yogi Adityanath Government) ने प्रदेश के 15 जिलों के हॉटस्पॉट (Hotspot) इलाकों को पूरी तरह से सील करने का निर्णय लिया है.  ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण पर लगाम लगाई जा सके. यह जानकारी प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मीडिया को दी है.


क्या है हॉटस्पॉट ?

जिन इलाकों में 6 या उससे अधिक कोरोना संक्रमित मरीज हैं उन्हें हॉटस्पॉट घोषित किया गया है. आगरा में 22 हॉटस्पॉट हैं, इसी तरह गाजियाबाद में 13 हॉटस्पॉट, गौतमबुद्ध नगर में 12 हॉटस्पॉट, कानुपर नगर में 12 हॉटस्पॉट, वाराणसी में 4 हॉटस्पॉट, शामली में 3 हॉटस्पॉट, मेरठ में 7 हॉटस्पॉट, बरेली में एक हॉटस्पॉट, बुलंदशहर में 3 हॉटस्पॉट, बस्ती में 3 हॉटस्पॉट, फिरोजबाद में 3 हॉटस्पॉट, सहारनपुर में 4 हॉटस्पॉट, महाराजगंज के 3 हॉटस्पॉट, सीतापुर में एक हॉटस्पॉट और लखनऊ में 12 हॉटस्पॉट को चिन्हित किया गया है.


इन इलाकों में क्या खुला क्या बंद

  • सील किए गए इलाकों में पूरी तरह होम डिलीवरी होगी.
  • स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और डिलीवरी वाले कर्मचारी ही इन इलाकों में जा पाएंगे.
  • 15 जिलों में जो हॉटस्पॉट हैं, उसमें सभी में पूरी तरह से सख्ती की जाएगी, यानी यहां पर कम्प्लीट लॉकडाउन लागू करवाया जाएगा.
  • इन इलाकों का कोई भी व्यक्ति ना ही यहां से बाहर जा पाएगा, और ना ही बाहर का कोई व्यक्ति इन इलाकों में एंट्री पा सकेगा, यानी पूरी तरह से आवाजाही रोकी जाएगी.
  • सरकार ने इन जिलों के उन इलाकों को सील करने का फैसला किया है, जहां से तबलीगी जमात के लोग पकड़े गए हैं, या जहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों को रखा गया है.
  • इस दौरान फायर सर्विस की गाड़ियां इलाके को सेनेटाइज करेंगी.
  • सील किए गए पूरे इलाके में बैरियर लगाए जाएंगे और मैजिस्ट्रेट के साथ पुलिस अधिकारी इलाके की निगरानी करेंगे.
  • इन जिलों में जारी किए गए पासों की समीक्षा की जाएगी और अनावश्यक पासों को निरस्त किया जाएगा.

  • इन जिलों के कोरोना प्रभावित इलाकों यानी हॉटस्पॉट्स की सभी दुकानों, मंडियों आदि को भी बंद किया जाएगा

वहीं इस पूरे मामले के संबंध मे जानकारी देते हुए डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि जिन हॉटस्पॉट को सील किया जा रहा है. वहां किसी प्रकार के आवाजाही नहीं होगी. इन इलाकों में सप्लाई की व्यवस्था सिर्फ होम डिलीवरी के जरिये ही होगी. फल, सब्जी, दवा, राशन इत्यादि की व्यवस्था होम डिलीवरी के माध्यम से हर घर तक पहुंचेगी. उन्होंने बताया कि कोरोना पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आए हर एरिया व लोगों को चिन्हित कर क्वारंटीन व सेनीटाइज करने का काम किया जा रहा है. इन इलाकों में ड्रोन की सहायता से निगरानी की जाएगी. डीजीपी ने बताया कि अबतक 1573 तबलीगी जमात से सम्बंधित को चिहिंत किया गया है. इनमें से 1268 को क्वारंटीन करा दिया गया है. इनमें से 323 एनआरआई भी शामिल हैं.


Also Read: यूपी: 15 जिलों के ये हॉटस्पॉट होंगे पूरी तरह से सील, देखिए पूरी लिस्ट


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

JNU में फिर शर्मनाक हरकत, सावरकर पर कालिख पोतकर लगाया ‘जिन्ना मार्ग’ का पोस्टर, लेफ्ट पर लगा आरोप

BT Bureau

गुजरात के कच्छ में सेना ने मार गिराया PAK का ड्रोन, हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

BT Bureau

अयोध्या में सीएम योगी ने किया कोदंड राम प्रतिमा का किया अनावरण, जानें इसकी खासियत

BT Bureau