Breaking Tube : #1 News Portal of Uttar Pradesh
Social

प्रोफेसर दिलीप मंडल के खिलाफ छात्रों ने खोला मोर्चा, जातिगत भेदभाव, कलावा बांधने, तिलक लगाने पर आपत्ति जताने जैसे गंभीर आरोप

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में नियुक्त प्रोफेसर दिलीप सी मंडल (Professor Dilip Mandal) के खिलाफ छात्रों ने मोर्चा खोल दिया है. छात्रों का आरोप है कि दिलीप मंडल जातिवादी हैं और सर्वणों ने नफरत करते हैं. उन्होने सोशल मीडिया के अलावा के यूनिवर्सिटी में भी जातिगत आधार पर भेदभाव का आरोप लगाया है. गुस्साए छात्रों ने कुलपति ऑफिस के बाहर जमकर हंगामा किया. छात्रों ने चेतावनी दी कि जब तक दोनों फैकल्टी को बाहर नहीं किया जाता, तब तक विरोध दर्ज कराते रहेंगे.


कुलपति को छात्रों की चिट्ठी

छात्रों का कहना है कि दिलीप मंडल सोशल मीडिया पर जातिवादी टिप्पणियां करके सवर्णों को आहत करते हैं. छात्रों का कहना है कि पिछले कुछ दिनों से प्रोफेसर दिलीप मंडल सोशल मीडिया में मीडिया के एक वर्ग विशेष को लेकर लगातार पोस्ट कर रहे हैं. उन्होंने जाति विशेष आधारित मीडिया को लेकर एक हैशटैग भी चला रखा है. जिसके विरोध में उन्होने वीसी कक्ष के सामने धरना भी दिया.



कलावा बांधने और तिलक लगाने पर जताते हैं आपत्ति

जातिवाद के अलावा दिलीप मंडल पर छात्रों ने अनेक गंभीर आरोप लगाए. जिसके मुताबिक यूनिवर्सिटी में छात्रों के पहनावे, कलावा बांधने और तिलक लगाने पर आपत्ति दर्ज की जा रही है. विवि की लाइब्रेरी से चुन-चुनकर किताबें, पत्रिकाएं हटाई गई हैं. विवि के ऊपर तिरंगा लगा था, उसे हटाया गया है. कंप्यूटर साइंस डिपार्टमेंट द्वारा एक सेमिनार में बांटे गए प्रमाणपत्र में जो भारत का नक्शा प्रकाशित किया, उसमें पीओके को जम्मू कश्मीर से काटकर बताया है. विवि में जो सेमिनार आयोजित किए जा रहे हैं, उनमें शामिल होने वाले अतिथि राजनीतिक, विचारधारा के नाम पर आरेाप लगा रहे हैं.


Breaking : पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति कार्यालय में तोड़फोड़, धरने पर बैठे उग्र छात्र

जब तक मंडल बाहर नहीं होंगे, प्रदर्शन जारी रहेगा

छात्रों ने चेतावनी दी कि जब तक दोनों फैकल्टी को बाहर नहीं किया जाता, तब तक विरोध दर्ज कराते रहेंगे, क्योंकि यह सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर जिस तरह से पोस्ट डालते हैं और कक्षाओं में व व्यक्तिगत रूप से छात्रों से उनकी जाति जानने की कोशिश की जाती है, वह असंवैधानिक है. वहीं इस मामले पर यूनिवर्सिटी प्रशासन का कहना है कि छात्रों की शिकायत लिखित तौर पर ले ली गई है. कुलपति के आने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी.


Also Read: सहारनपुर: धारा 144 के बावजूद जुमे की नमाज के बाद जमकर हंगामा, CAB के विरोध में लगे ‘अल्लाह हू अकबर’ के नारे


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मिलिए बंगाल की ‘जलपरी’ से, पिछले 20 सालों से हर रोज 14 घंटे गुजरती है तालाब में

BT Bureau

ईसाई मिशनरीज द्वारा संचालित स्कूल में मेहंदी लगाकर आईं छात्राओं को निकाला गया, छात्रों की काटी गयी राखी, अभिभावकों में आक्रोश

BT Bureau

UP: 20 साल तक लिव इन में रहने वाली मुस्लिम युवती ‘हसीरुन निशा’ बनीं ‘मालती’, भरत लाल से किया प्रेम विवाह

Jitendra Nishad