Breaking Tube
Sports

18 साल के सफर के बाद पार्थिव पटेल ने क्रिकेट को कहा अलविदा, ये रिकार्ड्स हैं नाम

स्पोर्ट्स: भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है. पार्थिव पटेल का करियर करीब 18 साल तक चला जिसमें उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था. हालही में इस फैसले को लेकर पार्थिव पटेल ने सोशल मीडिया पर इस बात की जानकारी देते हुए पोस्ट शेयर की थी. 35 साल के पार्थिव ने भारत के लिए 25 टेस्ट, 38 वनडे और दो टी20 इंटरनेशनल खेले हैं. घरेलू क्रिकेट में गुजरात के लिए खेलते हुए पार्थिव ने 194 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं.


पार्थिव पटेल ने ट्विटर और इंस्टाग्राम की पोस्ट में लिखा, ‘मैं आज क्रिकेट के सभी प्रारूपों से विदा ले रहा हूं. भारी मन से अपने 18 साल के क्रिकेट के सफर का समापन कर रहा हूं. ’ सौरव गांगुली की कप्तानी में 17 साल 152 दिन की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले पार्थिव पटेल ने अपने करियर में 31.13 की औसत से 934 रन बनाए, जिसमें 6 अर्धशतक शामिल रहे. उन्होंने 62 कैच लपके और 10 स्टंप भी किए. वह टेस्ट डेब्यू करने वाले सबसे युवा विकेटकीपर रहे.


टेस्ट क्रिकेट: 5 सबसे युवा विकेटकीपर

पार्थिव पटेल (भारत), 17 साल 152 दिन

हनीफ मोहम्मद (पाकिस्तान), 17 साल 300 दिन

तेतेंदा ताइबू (जिम्बाब्वे), 18 साल 66 दिन

इकराम अलीखिल (अफगानिस्तान), 18 साल 167दिन

असंका गुरुसिंघे (श्रीलंका), 19 साल 52 दिन




पार्थिव पटेल ने अपने वनडे करियर में 23.74 के एवरेज से 4 अर्धशतकों के साथ 736 रन बनाए. उन्होंने 30 कैच लपके और 9 स्टंप भी किए. आईपीएल-2020 में उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) की और एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था.


इसके अलावा आपको बता दें, आईपीएल के 139 मैचों में उन्होंने 22.60 के एवरेज से 2848 रन बनाए. उन्होंने 13 अर्धशतक लगाए, विकेट के पीछे 85 (69+16) शिकार किए. दिनेश कार्तिक और फिर महेंद्र सिंह धोनी के आने के बाद वह टीम इंडिया के नियमित सदस्य नही रह पाए.


पार्थिव ने ‘दादा’ यानी बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली समेत सारे कप्तानों को धन्यवाद दिया. महेंद्र सिंह धोनी के आने के बाद पार्थिव विकेटकीपर के तौर पर दूसरी पसंद हो गए और यदा कदा बतौर बल्लेबाज ही खेले. इसके बाद में सीमित ओवरों में सलामी बल्लेबाज के रूप में कुछ मैच खेले. पार्थिव ने लेकिन हमेशा स्वीकार किया कि वह धोनी को दोष नहीं दे सकते क्योंकि उन्हें और दिनेश कार्तिक को धोनी से पहले टीम में अपनी जगह पक्की करने के मौके मिले थे.


Also Read: IND vs AUS: भारत का जीत से आगाज, ऑस्ट्रेलिया को 11 रनों से हराया, टी-20 में लगातार 9वीं जीत 


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अनजान महिला को मैसेज भेज फिर विवादों में फंसे मोहम्मद शमी, वायरल हुआ स्क्रीनशॉट

S N Tiwari

लॉकडाउन: अजिंक्य रहाणे बोले- वापसी के बाद खिलाड़ियों को लय हासिल करने में लगेगा 3-4 सप्ताह का समय

Jitendra Nishad

भारतीय संस्कृति को फॉलो करता है साउथ अफ्रीका का ये खिलाड़ी, रोज जाता है मंदिर और फिट रहने के लिए करता है योग

S N Tiwari