UP दारोगा भर्ती: जहां रिश्तेदार दे रहे हों एग्जाम, वहां न लगाई जाए पुलिसकर्मी की ड्यूटी, जारी हुआ आदेश

कल यानी कि 12 नवंबर से उत्तर प्रदेश में दारोगा भर्ती की लिखित परीक्षा की शुरुआत हो रही है। जिसके चलते प्रदेश भर में पुलिस प्रशासन ने कमर कसना शुरू कर दिया है। इसके लिए नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने मीटिंग आयोजित करके पुलिसकर्मियों को सख्त निर्देश दिए हैं। सीपी ने साफ तौर पर कहा है कि परीक्षा में किसी तरह गड़बड़ी नहीं होनी चाहिए। मीटिंग में उनके द्वारा डीसीपी क्राइम को सभी परीक्षा केंद्रों का भ्रमण करने व सभी शासन द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन कराने हेतु निर्देशित किया गया।

सीपी ने दिए सख्त निर्देश

जानकारी के मुताबिक, यूपी पुलिस एसआई के 9,534 पदों पर होने वाली भर्ती की लिखित परीक्षा के आयोजन से जुड़ी तारीखों की आधिकारिक घोषणा कर दी गई है। यह एग्जाम 12 नवंबर 2021 से शुरू हो जाएगा। एसआई एग्जाम तीन अलग-अलग चरणों में आयोजित किया जा रहा है। इसी क्रम में अब नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा पुलिस अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया की परीक्षा में लगे पुलिस फोर्स व कार्यवाही संस्था के लोगों की ड्यूटी उन परीक्षा केंद्रों पर न लगाई जाए जहां उनका कोई भी नजदीकी रिश्तेदार परीक्षा में सम्मिलित हो रहा हो।

सीसीटीवी कैमरा लगवाने के दिए निर्देश

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि परीक्षा के समय एक आकस्मिक फ्लाइंग स्क्वायड कार्यरत रहे जो परीक्षा के दौरान अपनी नजर बनाए रखे। परीक्षा के दौरान विद्युत की सप्लाई बाधित ना हो, इसका भी इंतजाम करने, परीक्षा के लिए उपयोग होने वाले कंप्यूटर सिस्टम को चेक करने व यदि किसी परिस्थिति में विद्युत आपूर्ति बाधित हो भी जाए तो परीक्षा किसी प्रकार से बाधित न हो, यह भी सुनिश्चित करने हेतु कहा गया। उनके द्वारा प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर नियंत्रण कक्ष बनाने, पर्याप्त पुलिस बल की ड्यूटी लगाने, गेट पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने व सीसीटीवी कैमरों को चेक करने के लिए भी निर्देशित किया गया।

Also Read: जिनमे देश से गद्दारी, उनसे नहीं कोई यारी..भारत की हार का जश्न मनाने वाले कश्मीरी छात्रों का केस नहीं लड़ेंगे आगरा के वकील

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )