अगर चाहते हैं नए साल में न आए कोई परेशानी तो आज ही घर लाएं ये शुभ चीजें

आज 2021 का आखिरी दिन है। कल से नया साल लग जाएगा। हर कोई अपने साल को अच्छा बनाने की कोशिश कर रहा है। ताकि आगे आने वाला समय उसके लिए अच्छा रहे। ऐसे में आने वाला साल 2022 आपकी उम्मीदों पर खरा उतरे, इसके लिए वास्तु के कुछ आसान उपाय बताए गए हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार, नया साल शुरू होने से पहले घर में कुछ ऐसी चीजें ले आएं जो शुभ होती हैं। इनके आने के बाद से आपके घर में खुशियां ही खुशियां होंगी।

मोर पंख

भगवान श्रीकृष्ण का सबसे प्रियमोर पंख जिस घर में रखा होता है वहां मां लक्ष्मी का वास होता है। अगर आप अपने नए साल को खुशियों से भरना चाहते हैं तो घर में मोर पंख जरूर लाकर रखें।

तुलसी का पौधा

तुलसी का पौधा सबसे पवित्र माना जाता है। मान्यता है कि जिस घर में तुलसी का हरा-भरा पौधा मौजूद होता है वहां कभी भी अशांति नहीं होती है। साथ ही घर धन धान्य से भरा रहता है। नया साल शुभ रहे इसके लिए आप नए साल से पहले घर में तुलसी का पौधा ला सकते हैं।

ठोस चांदी का हाथी

नया साल शुरू होने से पहले इसको घर में रखें। ज्योतिष के अनुसार इसका चमत्कारिक प्रभाव होता है। राहु और केतु का बुरा प्रभाव समाप्त होता है ,साथ ही व्यक्ति के व्यापार तथा नौकरी में उन्नति होती रहती है। हाथी रखने से घर में शांति तथा सुख समृद्धि बनी रहती है।

धातु का कछुआ

सबसे पहले आप अपने घर में एक धातु का कछुआ ले आइए। कुछ लोग मिट्टी तथा कुछ लोग लकड़ी का छोटा सा कछुआ लाकर घर में कहीं भी रख देते हैं जो सही नहीं है। अच्छी धातु का कछुआ बनवाएं। चांदी, पीतल या कांसे की धातु से बना कछुआ शुभ रहेगा। इसे उत्तर दिशा में रखने से नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होती है और घर में सुख समृद्धि आती है।

लाफिंग बुद्धा

नए साल के शुभ अवसर पर आप लाफिंग बुद्धा भी घर लेकर आ सकते हैं। इसे हमेशा उत्तर-पूर्व दिशा की ओर रखें। घर में इसे रखने से धन की कभी कमी नहीं रहती है।

स्वास्तिक का चित्र

स्वास्तिक का चित्र घर में रखने से हर मनोकामना पूरी होती है। पुराणों में स्वास्तिक को मां लक्ष्मी और गणपति का प्रतीक माना गया है। स्वास्तिक संस्कृत के ‘सु’ और ‘अस्ति’ से मिलकर बना हुआ है, जिसका अर्थ होता है, ‘शुभ’। स्वास्तिक से परिवार, धन, स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं खत्म होती हैं।

गोमती चक्र

साधारण पत्थर की तरह दिखने वाला गोमती चक्र चमत्कारिक होता है। गोमती नदी में मिलने के कारण इसे गोमती चक्र कहते हैं। गोमती चक्र के घर में होने से व्यक्ति के ऊपर किसी भी प्रकार की शत्रु बाधा नहीं रहती है। इसको लाकर सिंदूर की डिब्बी में रखना चाहिए। 11 गोमती चक्र लेकर उसे पीले वस्त्रों में लपेटकर तिजोरी में रखने से बरकत बनी रहती है।

लघु नारियल

लघु नारियलों को लपेटकर तिजोरी में रख दें और दिवाली के दूसरे दिन किसी नदी या तालाब में विसर्जित करने से मां लक्ष्मी लंबे समय तक आपके घर में निवास करती हैं। विसर्जित करने के बाद दूसरा नारियल तिजोरी में रख सकते हैं। हालांकि लघु नारियल के अन्य भी कई प्रयोग हैं। इसके घर में रखे होने से धन तथा समृद्धि बरकरार रहती है।

तोते का चित्र या मूर्ति

उत्तर दिशा में तोते की तस्वीर को लगाने से पढ़ाई में बच्चों की रुचि बढ़ती है। साथ ही उनकी स्मरण क्षमता में भी इजाफा होता है। तोता प्रेम, वफादारी, लंबी आयु तथा सौभाग्य का प्रतीक होता है। तोता सौभाग्य का प्रतीक होता है। अगर आप घर में बीमारी, निराशा, दरिद्रता तथा सुखों का अभाव महसूस कर रहे हैं तो तोता घर में स्थापित करें। इससे बड़ा फायदा होगा।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )