Breaking Tube
Crime UP News

कानपुर में लव जिहाद के बाद अब ‘हिंदुस्तान मुर्दाबाद-पाकिस्तान जिंदाबाद’, नारा लगाने वाले अब्दुल रहमान की तलाश में जुटी पुलिस

लव जिहाद का अड्डा बन चुके उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) से अब देशविरोधी नारेबाजी का सनसनीखेज मामला सामने आ रहा है. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक मुस्लिम युवक पाकिस्तान के समर्थन में और हिंदुस्तान के विरोध में नारे लगाते दिख रहा है. वायरल वीडियो को संज्ञान में लेकर लेकर कानपुर पुलिस आरोपी के विषय में जानकारी जुटा रही है तथा उसकी तलाश में जुट गई है.


दरअसल, सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में आरोपी अपना नाम अब्दुल रहमान (Abdul Rahman) बताता है तथा खुद को कानपुर जिले का निवासी बता रहा है. वीडियो में अब्दुल रहमान पहले हिंदुस्तान मुर्दाबाद (Hindustan Murdabad) के नारे लगाता था, तथा कुछ देर पाकिस्तान जिंदाबाद (Pakistan Jindabad) के नारे लगाने लगता है. आरोपी कहता है कि मैं अब्दुल रहमान कानपुर उत्तर प्रदेश से यह नारा पाकिस्तान देश के वासियों के नाम लगा रहा हूं,



वायरल वीडियो का यूपी बीजेपी के प्रवक्ता और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने संज्ञान लिया. उन्होनें यूपी पुलिस को कार्रवाई के लिए कहा.



मीडिया सलाहकार के ट्वीट पर संज्ञान लेते हुए कानपुर पुलिस ने कहा, “उपरोक्त व्यक्ति के बारे में जानकारी की जा रही है, जानकारी प्राप्त होने पर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जाएगी”.


दिखा पाकिस्तान जिंदाबाद नाम से वाई-फाई नेटवर्क

करीब दो सप्ताह पहले कानपुर से पाकिस्तान जिंदाबाद नाम से वाईफाई नेटवर्क का मामला सामने आया था. दरअसल कबाड़ी मार्केट निवासी एक युवक ने बुधवार देर रात ऑफिस से लौटने के बाद घर में लगे वाईफाई को ऑन किया. उसे खोलते ही उनके मोबाइल में पाकिस्तान जिंदाबाद के नाम से नेटवर्क दिखाई दिया. इसके बाद हड़बड़ाए युवक ने पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस ने मौके पर जाकर नेटवर्क का नाम बदला. हालांकि, यह हरकत करने वाले शख्स का पता अभी नहीं चल पाया है. फिलहाल पुलिस और खुफिया एजेंसियां मामले की जांच पड़ताल कर रही है.


लव जिहाद का अड़्डा बना कानपुर

बता दें कि कानपुर लव जिहाद का अड्डा बनता दिखता रहा है. फिजा फातिमा बनीं शालिनी यादव मामले के बाद से जिले में मजहबी फरेब की परतें एक-एक कर उपरने लगीं. देखते ही देखते 15 से अधिक मामले सामने आकर खड़े हो गए. आइजी के निर्देश पर इन सभी मामलों के लिए एसआईटी गठित कर दी गई है, जो इन मामलों की जांच कर रही है. अभी तक की जांच इन कुकृत्यों के लिए बाहर से फंडिग का अंदेशा जताया जा रहा है. पुलिस तमाम एंगल से जांच कर रही है.


Also Read: जिन आतंकियों के सपोर्ट में टीवी डिबेट में चीखकर कहा था Hindustan Murdabad, उन्हीं ने बाबर कादरी को गोलियों से भून डाला


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Video: गोमांस के खेल में सामने आयी पशु चिकित्सक से पुलिस की मिलीभगत, मचा हड़कंप

BT Bureau

स्विस बैंक खातों में भारतीयों के जमा 300 करोड़ रुपये का नहीं मिल रहा कोई दावेदार

BT Bureau

झारखण्ड के बाद अब बिहार में ‘मॉब लिंचिंग’, चोर को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

BT Bureau