Breaking Tube
Crime UP News

UP: पहचान छिपाकर जीता दलित युवती का भरोसा, फिर घर ले जाकर रेप, अश्लील वीडियो से जबरन धर्मांतरण, निकाह, गर्भपात व अप्राकृतिक यौन संबंध भी बनाए

Saharanpur Love jihad

उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) जिले में एक मुस्लिम शख्स (Muslim man) द्वारा फेसबुक पर दोस्ती करने के बाद दलित युवती (Dalit Girl) का जबरन धर्म परिवर्तन (Forcible Conversion) कराकर निकाह (Niqah) कराने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पीड़ित युवती बरेली जनपद की ही रहने वाली है और आरोपी अफजल (Afzal) पीलीभीत जिले का रहने वाला है। एडीजी जोन अविनाश चंद्र के आदेश पर थाना इज्जतनगर में आरोपी और उसके परिवरा के खिलाफ रेप, एससीएसटी और बंधक बनाने समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।


पीड़िता ने बताया कि आरोपी अफजल पीलीभीत जनपद के मोहल्ला भूरे खां का रहने वाला है। अफजल ने फेसबुक के माध्यम से युवती से बातचीत शुरू की थी। युवती से करीबियां बढ़ाने के लिए आरोपी ने अपनी पहचान छिपाए रखी थी और कई दिन बाद उसने अपना असली परिचय युवती को दिया। इसके बाद युवती को बरेली के फीनिक्स मॉल में मिलने बुलाया। इसके कुछ दिन बाद अफजल ने युवती को अपने घरवालों से मिलाने की बात कहकर उसे पीलीभीत ले गया।


Also Read: कानपुर: पहले रहमान और साहिल ने साथियों संग नाबालिग छात्रा से की छेड़छाड़, फिर विरोध करने पर 50 से अधिक लोगों ने घर में घुसकर पूरे परिवार को पीटा


यहां उसने अपने पिता अजहर, मां कमर जहां और बहन कहकशा से युवती को मिलवाया। इसके बाद उसके घर वालों ने रात में युवती को अफजल के साथ एक कमरे में बंद कर कर दिया। इस दौरान अफजल ने उसके साथ दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो भी बना लिया। आरोपी अफजल युवती को अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह करने का दबाव बनाने लगा।


पीड़िता ने बताया कि 11 सितंबर 2020 को अफजल ने उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराकर उसके साथ बरेली के सैलानी मोहल्ले में निकाह कर लिया। इसके बाद तीन महीने तक उसे बरेली शहर के अजीज गेस्ट हाउस में रखा और फिर बरेली के डेलापीर इलाके में किराए पर कमरा ले लिया। इस बीच पीड़िता प्रेग्नेंट हुई तो आरोपी ने उसका गर्भपात करा दिया। आरोप है कि अफजल उससे अप्राकृतिक यौन संबंध भी बनाता रहा। विरोध करने पर उसे जान से मारने की धमकी और मारपीट करता था।


Also Read: कानपुर का आदित्य गुप्ता भी बना धर्मांतरण कराने वाले गिरोह का शिकार, मुस्लिम चरमपंथियों ने बना दिया अब्दुल कादिर


पीड़िता के मुताबिक, हाल ही में अफजल और उसके घर वाले मायके से 7 लाख रुपए लाने का दबाव बनाने लगे और फिर 10 अप्रैल 2021 को उसे जाति सूचक गालियां देकर घर से निकाल दिया। इसके बाद अफजल अपने मामा के सात कहीं भाग गया। आरोपी निकाह के डॉक्यूमेंट्स, फोटो समेत सारे सबूत भी अपने साथ ले गया और उसके घर वाले भी अब बात नहीं कर रहे हैं। फिलहाल पीड़िता की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी अफजल उसके पिता अजहर, मां कमर जहां, और बहन कहकशा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले की जांच की जा रही है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

धारा 144 का उल्लंघन कर समर्थकों संग दिल्ली जा रहे थे RJD विधायक, UP Police ने भेजा वापस बिहार

BT Bureau

अयोध्या में जल्द खुलेगा सेंट्रल इंस्टिट्यूट ऑफ प्लास्टिक्स इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, शुरू होंगे 3 डिप्लोमा कोर्सेज

Jitendra Nishad

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों का शिक्षा कौशल बढ़ाएगी योगी सरकार, दी जाएगी ग्रेडेड रीडिंग बुक्स, चलेंगी रेमेडियल क्लासेज

BT Bureau