Breaking Tube
Politics UP News

आजम खान ने दलितों की जमीन कब्जाई, बाबा साहब को भू-माफिया बताया तब क्यों चुप रहे अखिलेश, बृजलाल ने ‘दलित वाहिनी’ पर SP चीफ से पूछे 7 सवाल

BJP MP Brijlal akhilesh yadav baba saheb vahini

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद बृजलाल (BJP MP Brijlal) ने रविवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav0 पर जमकर निशाना साधा। भाजपा सांसद ने सपा अध्यक्ष से कई सवाल पूछे हैं। उन्होंने पूछा कि अब क्यों उन्हें दलित वाहिनी की याद आ रही है? अखिलेश सरकार ने ही जनवरी 2015 में प्रदेश में लगभग 2 लाख दलितों को अपने पद से डिमोट कर दिया था जो दारोगा था, उसे सिपाही बना दिया गया। तब दलितों का सम्मान सपा को क्यों नहीं याद आया?


बीजेपी सासंद बृजलाल ने पूछा क्यों समाजवादी पार्टी ने अपने सांसद आजम खान को दलितों की जमीनों पर कब्जा करने से नहीं रोका? उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में आजम खां ने बाबा साहेब को मू-माफिया करार देत हुए मजाकर उड़ाया। तब अखिलेश यादव मंच पर बैठे तालियां क्यों बजा रहे थे? उन्होंने सवाल उठाया कि मुलायम सिंह यादव ने भी 2004-07 की सरकार में दलितों द्वारा जमीन बेचने के लिए डीएम की अनुमति लेने की अनिवार्यता खत्म करने की तैयारी कर ली थी। कुछ विधायकों के विरोध पर उन्होंने अपना फैसला रोका।


Also Read: अखिलेश यादव का संकल्प- डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सपा की ‘बाबा साहेब वाहिनी’ का होगा गठन


भाजपा सांसद ने कहा कि दलित अब समाजवादी पार्टी के बहकावे में आने वाले नहीं हैं। सांसद ने पूछा कि आखिर समाजवादी पार्टी ने पदोन्नति में आरक्षण के बिल का संसद में विरोध किया था। दरअसल अखिलेश यादव ने हाल में कहा कि हम बाबा साहेब अंबेडकर की जयंती पर जिला, प्रदेश और देश के स्तर पर सपा की बाबा साहेब वाहिनी के गठन का संकल्प लेते हैं।


बता दें कि बीते शनिवार (10 अप्रैल, 2021) को अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा था कि डॉ. भीमराव अंबेडकर के विचारों पर सक्रिय कर असमानता-अन्याय को दूर करने व सामाजिक न्याय के समतामूलक लक्ष्य की प्राप्ति के लिए, हम उनकी जयंती पर जिला, प्रदेश व देश के स्तर पर सपा की बाबा साहेब वाहिनी (Baba Saheb Vahini) के गठन का संकल्प लेते हैं।


Also Read: अखिलेश यादव का ऐलान- अंबेडकर जयंती पर ‘दलित दिवाली’ मनाएगी समाजवादी पार्टी


इससे पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर दलित दिवाली मनाने का आह्वान किया था। उन्होंने बीजेपी सरकार पर तंज करते हुए ट्वीट किया था कि भाजपा के राजनीतिक अमावस्या के काल में वो संविधान ख़तरे में है, जिससे मा. बाबासाहेब ने स्वतंत्र भारत को नयी रोशनी दी थी। इसलिए मा. बाबासाहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी की जयंती, 14 अप्रैल को समाजवादी पार्टी यूपी, देश व विदेश में ‘दलित दीवाली’ मनाने का आह्वान करती है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

लखनऊ: पैक्सफेड में सपा नेता तोताराम ने किया हंगामा, खुद का कुर्ता फाड़ चिल्लाने लगे बचाओ… बचाओ !!

BT Bureau

प्रियंका के बयान पर BJP का पलटवार, पूछा देश संकट में है या परिवार, भाई, पति या संपत्ति संकट में है

BT Bureau

नितिन गडकरी बोले, अगर ऐसा हुआ तो 50 रुपये में डीजल और 55 रुपये में मिलेगा पेट्रोल

BT Bureau