Breaking Tube
Crime UP News

भारत में अवैध रूप से रह रहे 5 बांग्लादेशी नागरिकों को UP ATS ने किया था गिरफ्तार, अब कोर्ट ने सुनाई 4-4 साल कैद की सजा

five bangladeshi

राजधानी लखनऊ में कोर्ट ने भारत में अवैध रूप से रह रहे पांच बांग्लादेश नागरिकों (Five Bangladeshi) को सजा सुनाई है। कोर्ट ने पांचों बांग्लादेशियों को दोषी मानते हुए 4-4 साल की जेल और 5-5 हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है। ये सभी फर्जी कागजात बनवाने, फर्जी पासपोर्ट रखने के मामले में गिरफ्तार किए गए थे। एटीएस कोर्ट में पांचों बांग्लादेशियों ने अपना जुर्म कबूल किया है।


जानकारी के अनुसार, यूपी एटीएस ने साल 2019 में इनकी गिरफ्तारी की थी। कोर्ट से सजा पाने वालों में हबीबुर्रहमान, जाकिर हुसैन उर्फ रोमी, मोहम्मद काबिल, कमालुद्दीन, ताइजुल इस्लाम के नाम शामिल हैं। यूपी एटीएस ने मई 2019 में कूटरचित दस्तावेज बनवाने और जाली पासपोर्ट रखने के आरोप में 6 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया था।


Also Read: जेल में ही रहेगा हाथरस में हिंसा की साजिश रचने वाला PFI मास्टरमाइंड रऊफ शरीफ, कोर्ट ने खारिज की जमानत अर्जी


इन सभी के खिलाफ लखनऊ के एटीएस थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। यूपी एटीएस की सघन पैरवी के चलते पांचों अभियुक्तों हबीबुर्रहमान, कमालुद्दीन, काबिल, जाकिर और ताईजुल ने कोर्ट समक्ष अपना अपराध स्वीकार कर लिया।


Also Read: राजस्थान: ‘इस्लामिक आतंकवाद’ पर छापा कंटेंट तो पब्लिशर के दफ्तर पर हमला, पुलिस की मौजूदगी में की तोड़फोड़, किताबें जलाईं


कोर्ट ने पांचों अभियुक्तों को धारा 419, 420, 467, 468, 471 भारतीय दंड संहिता और 14 विदेशी अधिनियम में दोषी मानते हुए 4-4 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही कोर्ट ने इन पर 5-5 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया है। वहीं, छठे अभियुक्त के खिलाफ कोर्ट में केस जारी है। जानकारी के मुताबिक, हबीबुर्रहमान बांग्लादेश के मदारीपुर, जाकिर हुसैन नारायणगंज, मोहम्मद काबिल खानसामा, कमलालुद्दीन सिलेट और ताईजुल इस्लाम माइमान सिंह जिले का निवासी है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

सोमनाथ भारती के बयान पर सुरेश खन्ना बोले- खुद की जुबान पर गाली, धमकी और गुंडागर्दी है वे दिल्ली में बच्चों को क्या शिक्षा देते होंगे

BT Bureau

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद का ओवैसी को जवाब, राम जन्म भूमि की लड़ाई खत्म, अब काशी और मथुरा की बारी

BT Bureau

यूपी: 80 KG से अधिक वजन या तोंद वाले पुलिसकर्मी हो जाएं सावधान!, बन रही है लिस्ट

BT Bureau