Breaking Tube
Crime UP News

China के 2 नागरिकों को UP ATS ने नोएडा में किया गिरफ्तार, गैर-कानूनी कामों को दे रहे थे अंजाम

UP ATS two chinese

इंटरपोल द्वारा 2 चीनी नागरिकों जू जुनफू उर्फ जूली और ली तेंग ली उर्फ एलिस के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किए जाने के बाद उत्तर प्रदेश एंटी टेररिस्ट स्क्वाड (UP ATS) ने गौतमबुद्धनगर में दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को दोस्त की कार से यात्रा करते समय गिरफ्तार किया गया है।


माअतिरिक्त महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि यूपीएटीएस ने जाली दस्तावेजों को जमा करके सिम कार्ड खरीदने और फिर उन सिम के माध्यम से बैंक से धोखाधड़ी कर लेनदेन करने के आरोप में दोनों को गिरफ्तार किया। यह पहली बार है कि जब यूपीएटीएस ने China के नागरिकों को गिरफ्तार किया है।


also read: यूपी: नंबर प्लेट पर ‘जाति’ सूचक शब्द को लेकर परिवाहन विभाग सख्त, होगी सख्त कार्रवाई


एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि हमने इसी तरह की धोखाधड़ी के मामले में दिल्ली और उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से पिछले सप्ताह गिरफ्तार 14 व्यक्तियों से पूछताछ के बाद दोनों का पता लगाया। एडीजी ने कहा कि अन्य एजेंसियों को गिरफ्तारी के बारे में सूचित किया गया है और यूपीएटीएस यह पता लगाने के लिए काम कर रहा है कि धोखाधड़ी से कमाए धन का उपयोग किस उद्देश्य के लिए किया जा रहा है।


एटीएस के सूत्रों के अनुसार, दो चीनी नागरिकों द्वारा अनुचित साधनों के माध्यम से 5 करोड़ रुपये का लेन-देन किया गया था। एटीएस महानिरीक्षक (आईजी) जी.के. गोस्वामी ने कहा कि, जू जुनफू का व्यापार वीजा जुलाई 2020 में समाप्त हो गया था, जबकि ली तेंग ली का पर्यटक वीजा सितंबर 2020 में समाप्त हो गया था।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

वाराणसी: चौकी इंचार्ज के तबादले पर मायूस हुए बच्चे, बोले – अंकल आप मत जाइये, हम कभी शरारत नहीं करेंगे

Shruti Gaur

श्रीकृष्ण जन्मभूमि: याचिकाकर्ता का दावा- औरंगजेब ने तुड़वाया था मंदिर, ज्ञानवापी मस्जिद की तरह शाही मस्जिद ईदगाह की भी खुदाई कराने की मांग

BT Bureau

कन्नौज: मामूली बात पर भड़का सिपाही, ई-रिक्शा चालक को लात-घूंसों से पीटा, Video वायरल

BT Bureau