Breaking Tube
Government UP News

UP का हर गांव होगा ‘डिजिटल विलेज’, गांवों का कायाकल्‍प करेगी योगी सरकार, बजट में संभावनाएं अपार

Yogi Government operation kayakalp

उत्तर प्रदेश के गांवों में अब अपने ग्राम विकास सचिवालय होंगे. हर गांव बहुउद्देशीय पंचायत भवन की सुविधा से लैस होगा. योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार गांवों का कायाकल्‍प करने जा रही है. पिछड़े और अविकसित कहे जाने वाले प्रदेश के गांवों को सुविधाओं से लैस कर राज्‍य सरकार देश के सामने ग्रामीण विकास का नया मॉडल पेश करने की तैयारी में है. इसके लिए योगी सरकार ने बजट (UP Budget 2021) में खास प्राविधान किया है. सीएम योगी ने हर गांव को डिजिटल करने की अपनी सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई और कहा इस दिशा में इस बजट में अनेक प्रावधान किए गए हैं.


Also Read: UP Budget 2021: युवा कल्याण के प्रति दिखी योगी सरकार की प्रतिबद्धता, अभ्युदय कोचिंग के विद्यार्थियों को मिलेगा मुफ्त टैबलेट, छात्र बोले- अब छू लेंगे आसमान


सोमवार को पेश किए गए बजट में योगी सरकार ने प्रदेश की हर न्‍याय पंचायत में कम से कम दो चंद्रशेखर आजाद ग्रामीण विकास सचिवालय की स्‍थापना का प्राविधान किया है. इसके लिए राज्‍य सरकार ने बजट में 10 करोड़ रुपये की व्‍यवस्‍था की है. ग्रामीण विकास सचिवालय के जरिये गांव और पंचायत से जुड़ी गतिविधियां और काज का संचालन हो सकेगा. ग्रामीणों को हर छोटी बड़ी चीज के लिए ब्‍लाक या तहसील नहीं जाना पड़ेगा.


Also Read: UP Budget 2021: यूपी में बढ़ेगी सैनिक स्‍कूलों की संख्‍या, गोरखपुर में नए सैनिक स्‍कूल के लिए 90 करोड़ का बजट



योगी सरकार आने वाले समय में हर गांव को बहुउद्देशीय पंचायत भवन की सुविधा से लैस करने जा रही है. हर गांव में पंचायत भवन उपलब्‍ध हो जाने से गांव में होने वाले सामूहिक कार्यक्रम और ग्राम सभा की गतिविधियों का संचालन एक निश्चित स्‍थान पर हो सकेगा. इसके लिए राज्‍य सरकार ने बजट में 20 करोड़ रुपये का प्राविधान किया है. पंचायत भवनों के बन जाने से छोटे विवाद और झगड़े पहले की भांति गांव स्‍तर पर ही लोग आम सहमति से निपटा सकेंगे. इससे जहां पुलिस और न्‍यायालय पर बोझ कम होगा वहीं गांव के लोगों के बीच आपसी सौहार्द के साथ आत्‍म विश्‍वा और आत्‍म निर्भरता का भी संचार होगा.


Also Read: UP Budget 2021: गंगा एक्सप्रेस वे के लिए 7689 करोड़, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए 1492 करोड़ और भूमि अधिग्रहण के लिए 7200 करोड़ रुपए का प्रावधान


मुख्यमंत्री पंचायत प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत उत्कृष्ट ग्राम पंचायतों को सकारात्‍मक और विकासात्‍मक कार्यों के प्रोत्‍साहन के लिए बजट में 25 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है. राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान योजना के अंतर्गत पंचायतों की क्षमता सम्वर्द्धन, प्रशिक्षण और पंचायतों में संरचनात्मक ढाँचे के निर्माण के लिए 653 करोड़ रुपये का बजट दिया गया है. गाँवों में ई-गवर्नेस के विस्तार के लिए डॉ राम मनोहर लोहिया पंचायत सशक्तिकरण योजना के लिये 04 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्‍ताव बजट में किया गया है.


Also Read: UP Budget 2021: ग्रामीण परिवेश के छात्रों को पढ़ाई के लिए नहीं जाना पड़ेगा दूर, हर मंडल में एक राज्‍य विश्‍वविद्यालय खोलेगी योगी सरकार


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मेरठ: गिरोह बनाकर लूटपाट की वारदातों को अंजाम दे रहा होमगार्ड गिरफ्तार, कई शातिर अपराधियों से हैं कनेक्शन

BT Bureau

सीएम योगी की सिक्योरिटी में बड़े बदलाव की तैयारी, अब पीएम मोदी की तर्ज पर होगी सुरक्षा व्यवस्था

BT Bureau

CM योगी ने आतंकी हमले में शहीद अनिल तोमर को दी श्रद्धाजंलि, परिजनों को 50 लाख की मदद और एक सदस्य को सरकारी नौकरी

Jitendra Nishad