Breaking Tube
Corona Government UP News

टेस्टिंग के बाद वैक्सीनेशन में भी CM योगी अव्वल, 10 लाख से अधिक टीके लगाने वाला देश का पहला राज्य बना UP

Uttar Pradesh corona vaccine

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) 10 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों एवं फ्रंट लाइन कर्मियों के वैक्सीनेशन (Vaccination) का कार्य करने वाला और सबसे अधिक 3 करोड़ कोरोना टेस्ट (Corona Test) करने वाला देश का पहला राज्य है। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने आज यहां लोक भवन में मीडिया को बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में 1,20,384 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक 3,00,37,025 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश तीन करोड़ से अधिक कोविड-19 का टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य है।


उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 81 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 2,587 कोरोना के एक्टिव मामलों में से 692 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 211 लोग ईलाज करा रहे हैं, इसके अतिरिक्त मरीज एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। प्रदेश में कोविड-19 का रिकवरी 98.12 प्रतिशत से अधिक है।


Also Read: UP में धार्मिक पर्यटन को पूरी शिद्दत से बढ़ा रही योगी सरकार, चित्रकूट में बना रहा देश का सबसे खूबसूरत एयरपोर्ट


उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 181 तथा अब तक 5,91,194 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 4561 लोग तथा अब तक कुल 5,26,536 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,85,324 क्षेत्रों में 5,11,484 टीम दिवस के माध्यम से 3,14,65,852 घरों के 15,28,02,203 जनसंख्या का सवेर्क्षण किया गया है।


अमित प्रसाद ने बताया कि आज वैक्सीन की डोज फ्रट लाइन कर्मियों को लगायी जा रही है। छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों को एक और मौका देते हुए कल 19 फरवरी को वैक्सीनेशन लगाने का कार्य किया जायेगा। इसी दौरान 22 फरवरी, को फ्रंट लाइन कर्मियों को वैक्सीन लगाने का कार्य किया जायेगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश 10 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों एवं फ्रंट लाइन कर्मियों के वैक्सीनेशन का कार्य करने वाला देश में पहला राज्य है।


Also Read: UP: स्कूल ड्रेस की खरीदारी में नहीं चलेगी कमीशनबाजी, अब छात्रों के खाते में सीधे रकम भेजेगी योगी सरकार


उन्होंने बताया कि ‘मेरा कोविड केन्द्र’ ऐप के माध्यम से उपयोगकर्ता द्वारा पांच किलोमीटर के दायरे में स्थित कोविड-19 जांच केन्द्र की जानकारी प्राप्त की जा सकती है तथा जांच का परिणाम डीजी एमएचयूपी वेबसाइट पर स्मार्ट फोन के माध्यम से जाना जा सकता है। उन्होंने सभी नागरिकों से अपील की है कि कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मायावती के करीबी रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी MLC की सदस्यता से अयोग्य घोषित

BT Bureau

लव जिहाद: मंदिर में पूजा से जीता हिंदू युवती का भरोसा, फिर शारीरिक शोषण और मुसलमान बनने का दबाव

Jitendra Nishad

अय्याशी का अड्डा बना क्वारंटीन सेंटर, रखनी थी जहां शारीरिक दूरी, वहां खुलकर बनाए शारीरिक संबंध, जानें कैसे गर्भवती हुईं 3 तबलीगी महिलाएं

BT Bureau