Breaking Tube
Government Sports UP News

UP में निखरेंगी खेल प्रतिभाएं, खिलाड़ियों को मिलेगा बेहतर प्रशिक्षण, मेरठ में 700 करोड़ की लागत से ‘स्पोटर्स यूनिवर्सिटी’ बनवा रही योगी सरकार

Yogi Government tablets

उत्तर प्रदेश में खेल प्रतिभाओं और नए खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी (Uttar Pradesh Sports University) स्थापित करने का फैसला किया है। यह यूनिवर्सिटी मेरठ जिले के सरधना तहसील के सलावा गांव में स्थापित होगी। इसके लिए खेल विभाग द्वारा तैयार किये गए ‘द उत्तर प्रदेश स्टेट स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बिल-2021’ के मसौदे को सोमवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में मंजूरी दे दी गई है। अब इस बिल के मसौदे को आगामी विधान मंडल सत्र में रखा जाएगा। जहां से मंजूरी मिलने के बाद विश्वविद्यालय की नियमावली तैयार की जाएगी।


यूनिवर्सिटी में मिलेंगी ये सुविधाएं


खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी ने बताया कि मुख्यमंत्री की मंशा के मुताबिक उत्तर प्रदेश स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना की जा रही है। इसका उद्देश्य प्रदेश में खेल संस्कृति में उत्कृष्टता लाना और फिजिकल एप्टीट्यूड स्किल्स व खेलों में रिकॉर्ड स्थापित करने और पदक जीतने के लिए खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना है। उन्होंने बताया कियह विश्वविद्यालय एक शिक्षण संस्थान के साथ ही एफिलिएटिंग विश्वविद्यालय भी होगा। इस विश्वविद्यालय में स्पोर्ट्स संबंधित विषय में सैद्धांतिक व प्रायोगिक पेपर के आधार पर डिग्री दी जाएगी।


Also Read: योगी ने उठाया युवाओं की प्रतिभा निखारने का बीड़ा, बच्चों को ‘अफसर’ बनने की तैयारी कराएगी सरकार


उपेन्द्र तिवारी ने बताया कि विश्वविद्यालय में फिजिकल एजुकेशन, हेल्थ एंड एप्लाइड स्पोर्ट्स साइंसेज, स्पोर्ट्स मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, स्पोर्टस कोचिंग, स्पोर्ट्स जर्नलिज्म एंड मास मीडिया टेक्नोलॉजी, एडवेंचर स्पोटर्स एंड यूथ अफेयर्स के अन्तर्गत निर्धारित पाठ्यक्त्रस्मों द्वारा स्नातक, परास्नातक, डिप्लोमा, सर्टिफिकेट, एमफिल और पीएचडी तक की शिक्षा की सुविधा दी की जाएगी।


यूनिवर्सिटी के निर्माण में 700 करोड़ के खर्च का अनुमान


प्रस्ताव के मुताबिक विश्वविद्याल का निर्माण राज्य सरकार अपने बल पर कराएगी और इसके निर्माण पर करीब 700 करोड़ रुपये की खर्च आने का अनुमान है। विश्वविद्यालय की स्थापना से असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को जहां रोजगार मिलेगा, वहीं खिलाडियों की कोचिंग से भी उन्हें भविष्य में रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।


Also Read: UP में ‘ऑपरेशन अतीक गैंग’ जारी, अब शूटर ‘आसिफ’ के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर


राज्यपाल होंगे यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति


विधेयक के मुताबिक, राज्यपाल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति होंगे। वहीं कुलपति स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का दूसरा सर्वोच्च पद होगा। कुलपति की प्रमुख अहर्तताओं में उसका शिक्षाविद् होना जरूरी होगा। उसके पास प्रशासनिक अनुभव होना जरूरी होगा। शारीरिक शिक्षाविद् या उत्कृष्ट खिलाड़ी, उसके कई पेपर ख्याति प्राप्त जनरल में छपे हों, डाक्टरेट की डिग्री जरूरी होगी। उम्र 62 साल निर्धारित की जाएगी। कार्यक्रम तीन वर्ष का होगा।


स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी में कुलपति के बाद डायरेक्टर और डीन्स होंगे। उसके बाद मुख्य कोच होगा। रजिस्टार, परीक्षा नियंत्रक होंगे। इसके अलावा यूनिवर्सिटी संचालन के जरूरी पद होंगे। कार्यपरिषद होगी। मुख्य कोच खेल से संबंधित सभी गतिविधियों का संचालन करेगा। वह कुलपति और डायरेक्टर की खेलों से संबंधी मदद करेगा। स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का विधेयक तैयार करने के पहले विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की गाइड लाइन को देखा गया।


Also Read: यूपी दिवस पर सम्‍मान पाकर खिले दुग्ध उत्‍पादकों के चेहरे, बोले- CM योगी ने हमारा मान बढ़ा दिया


राजधानी में स्थित डा. शकुन्तला मिश्रा पुनर्वास विश्वविद्यालय के अलावा राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय मणिपुर, स्वर्णिम गुजरात यूनिवर्सिटी गांधीनगर, तमिलनाडु फिजिकल एजुकेशन एण्ड स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के पाठ्यक्रमों और उनके संचालन का अध्ययन किया गया।


आवासीय होगी स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी


महिला एवं पुरुषों के लिए स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी पूरी तरह आवासीय होगी। खेल मैदान, प्रशासनिक भवन, हॉस्टल, मेस आदि का निर्माण किया जाएगा। बीपीएड, एमपीएड की पढ़ाई के अलावा पीएचडी भी कराई जाएगी। इसके अलावा एडवांस स्पोर्ट्स, योगा, स्पोर्ट्स मैनेजमेंट, स्पोर्ट्स बायोमैकेनिक जैसे पाठ्यक्रम शामिल होंगे। इस स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी में उभरते हुए खिलाड़ियों को उच्च गुणवत्ता वाला प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

जिनसन जॉनसन ने अपने धमाकेदार प्रदर्शन से रियो ओलिंपिक में जीता गोल्ड

Satya Prakash

गाजियाबाद: घर में घुसकर महिला सिपाही से छेड़छाड़, कपड़े भी फाड़े, कांस्टेबल पति पर आरोप

BT Bureau

क्रिस गेल लेंगे वर्ल्ड कप के बाद वनडे से संन्यास, जानिए अबतक का सफर

admin