विदेशों में टीम योगी को जोरदार समर्थन, ऑन स्पॉट हुए 3 हजार करोड़ रुपये के MOU पर हस्ताक्षर

उत्तर प्रदेश का योगी मॉडल पूरी दुनिया को पसंद आ रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने प्रदेश में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और ईज ऑफ स्टार्टिंग बिजनेस का जो मंत्र दिया है, उसे पूरी दुनिया स्वीकार कर रही है। यही वजह है कि विदेशों में भ्रमण कर रही टीम योगी को पूरी दुनिया से निवेश के भारी भरकम प्रस्ताव मिल रहे हैं। बेल्जियम, यूएई, कनाडा और अमेरिका जैसे देशों से निवेशक भारत में लॉजिस्टिक एंड कॉर्गो, कृषि, पर्यटन, इंफ्रास्ट्रक्चर, रीन्यूएबल एनर्जी समेत कई क्षेत्रों में निवेश के ऑफर दे रहे हैं। इन निवेश प्रस्तावों के जरिए प्रदेश में लाखों नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

उल्लेखनीय है कि आगामी फरवरी में प्रदेश की राजधानी लखनऊ में होने जा रहे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए सीएम योगी ने 10 लाख करोड़ रुपए के निवेश का लक्ष्य रखा है। इसी की पूर्ति के लिए सीएम योगी ने अपने मंत्रियों और अधिकारियों की अलग-अलग टीमें दुनिया के अलग-अलग देशों में भेजी हैं।

वाराणसी में स्थापित होगा रीसाइक्लिंग प्लांट
बेल्जियम में औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता, नंदी और लोक निर्माण (पीडब्ल्यूडी) मंत्री जितिन प्रसाद की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल के प्रयास रंग लाए और जेमिनी कॉर्पोरेशन के साथ 200 करोड़ रुपए का एक एमओयू साइन किया गया। औद्योगिक विकास मंत्री ने ट्वीट कर खुद यह जानकारी साझा की। उन्होंने लिखा कि 1989 से सालाना 2 अरब किलो प्लास्टिक, कागज, टायर, धातु और लकड़ी की रिसाइक्लिंग करने वाली जेमिनी कॉर्पोरेशन के साथ एक एमओयू साइन किया गया, जो वाराणसी में 200 करोड़ की लागत से 300 टन प्लास्टिक प्रति दिन का रीसाइक्लिंग प्लांट स्थापित करेगी। इस दौरान जेमिनी कॉर्पोरेशन के डायरेक्टर वेदप्रकाश लता, विष्णु अग्रवाल, पवन बिरला, विवेक बेगवानी मौजूद रहे। उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधिमंडल की ओर से एसीएस नवनीत सहगल भी उपस्थित रहे। यह प्रतिनिधिमंडल बुधवार को एंबेसी के अधिकारियों के साथ स्वीडन के स्टॉकहोम में फर्नीचर और होम अप्लायंसेज व डिजाइन की लीडिंग कंपनी आइकिया के मैनेजमेंट से भी मिला। कंपनी के ग्लोबल एक्सपैंसन हेड जैन क्रिस्टीनसन ने 4 हजार करोड़ के निवेश की इच्छा जाहिर की। इस निवेश से कंपनी उत्तर प्रदेश में रिटेल स्टोर्स व लग्जरी मॉल खोलेगी। इस अवसर पर कंपनी की नोएडा में लगने जा रही यूनिट के अलावा उनकी भविष्य से जुड़ी निवेश योजनाओं पर चर्चा की गई। इससे पहले ये प्रतिनिधिमंडल फ्लांडर्स की सेक्रेट्री जनरल जूली बेनेंस से मिला और प्रदेश में बेलिज्यन बिजनेस के निवेश को लेकर बातचीत की।

यूएई से मिले 20 हजार करोड़ के लेटर ऑफ इंटेंट
यूएई में एमएसएमई मंत्री राकेश सचान की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल को 20340 करोड़ रुपए के 25 लेटर ऑफ इंटेंट प्राप्त हुए हैं। इस निवेश के जरिए प्रदेश में 27 हजार नए रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। प्रतिनिधिमंडल की डीपी वर्ल्ड के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात हुई। डीपी वर्ल्ड के प्रतिनिधियों ने उत्तर प्रदेश के दादरी में लॉजिस्टिक और कॉर्गो के क्षेत्र में जॉइंट वेंचर में निवेश पर सहमति जताई। यही नहीं, उन्होंने प्रतिनिधिमंडल के समक्ष कानपुर के करीब हाईवे और रेलवे कनेक्टिविटी वाली भूमि की भी जरूरत साझा की, ताकि बड़ा लॉजिस्टिक प्लांट स्थापित किया जा सके। जॉइंट वेंचर के तहत 2 हजार एकड़ भूमि की आवश्यक्ता होगी। इससे पहले यह प्रतिनिधिमंडल लुलु इंटरनेशनल ग्रुप के चेयरमैन यूसुफ अली समेत अन्य उद्यमियों से मिलकर उन्हें ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए आमंत्रित कर चुका है।

कनाडा से निवेश के मिले कई प्रस्ताव
विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना और पशुपालन एवं दुग्ध विकास मंत्री धर्मपाल सिंह की अगुवाई में कनाडा के निवेशकों को आकर्षित करने में जुटा प्रतिनिधिमंडल मांट्रियल में जेएमक्यू ग्लोबल के चीफ मेंटर व को-फाउंडर हिलमी कुरैशी से मिला। इस दौरान राउंड टेबल मीटिंग पर निवेश संभावनाओं और योजनाओं पर चर्चा भी हुई। इस अवसर पर हिलमी कुरैशी ने हेल्थ टेक्नोलॉजी पर निवेश की इच्छा जाहिर की। प्रतिनिधिमंडल ने कंपनी के साथ हेल्थ, एआई, आईटी और आईटीईएस टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों में भागीदारी की संभावनों पर भी चर्चा की। यह प्रतिनिधिमंडल सीडीपीक्यू के डायरेक्टर एरिक क्रिप्टन से भी मिला। उन्होंने उत्तर प्रदेश में रिन्यूएबल एनर्जी व हाईवे इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई। प्रतिनिधिमंडल ने पेंशन फंड और फाइनेंशियल जैसे क्षेत्रों में भागीदारी की संभावनाओं पर भी चर्चा की। प्रतिनिधिमंडल की फैन कैंप एक्सप्लोरेशन लि. के सीईओ और सीआईओ राजेश शर्मा से भी मुलाकात हुई। यूपी से ताल्लुक रखने वाले राजेश शर्मा ने मिनरल एक्सप्लोरेशन व एनर्जी रिडक्शन के क्षेत्र में निवेश पर चर्चा की। इसी तरह, गवर्नमेंट अफेयर्स, बॉमबार्डियर के वाइस प्रेसीडेंट पियरे सीन युन ने डिफेंस और एयरोस्पेस में, जिम इंटीग्रेटेड शिपिंग सर्विस को. के प्रेसीडेंट स्टीव एम फिल्डर ने लॉजिस्टिक व सप्लाई में निवेश की इच्छा जताई। वैंकूवर में प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात ऑप्टिमस इंफॉर्मेशन इंक के फाउंडर और एमडी पंकज अग्रवाल समेत कई निवेशकों से हुई। इनसे डाटा सेंटर, हेल्थकेयर, फूड प्रोसेसिंग, आईटी, आईटीईएस, डिफेंस और एयरोस्पेस में भागीदारी को लेकर बातचीत हुई। इस बीच, इन्वेस्ट यूपी और कनाडा इंडिया ग्लोबल फोरम के बीच जीआईएस 2023 के प्रचार को लेकर एक एमओयू भी हुआ। इसी तरह इंडो कनाडा ओटावा बिजनेस चैंबर के साथ भी एमओयू हुआ। यह निवेशकों का एक ग्रुप समिट के लिए भेजेगा।

कृषि के क्षेत्र में निवेश पर अमेरिकन कंपनियों से चर्चा
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना और पूर्व मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह की अध्यक्षता वाला प्रतिनिधिमंडल अमेरिका के न्यूयॉर्क में विंगस्योर के फाउंडर और सीईओ अवि बसु से मिला। इस मुलाकात के अवसर पर कृषि के क्षेत्र में टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल पर विस्तृत चर्चा हुई। इसके माध्यम से कैसे किसान को अधिक से अधिक लाभ मिले, यह चर्चा का केंद्र बिंदु रहा। इसके अलावा डेल्टा एनर्जी एंड कम्युनिकेशन के सीएफओ जॉन हेंड्रिक और आई क्रिएट के फाउंडर पराग अमीन से भी मुलाकात हुई। इस अवसर पर न्यूयॉर्क में भारत के काउंसलेट जनरल रणधीर जायसवाल ने प्रतिनिधिमंडल को अमेरिका में निर्मित परफ्यूम भेंट किया जिसमें यूपी के ओडीओपी उत्पाद कन्नौज के अतर से बने सार का उपयोग किया गया है।

दक्षिण कोरिया के पर्यटकों का यूपी में होगा स्वागत
उधर, दक्षिण कोरिया के सियोल में तकनीकी शिक्षा मंत्री आशीष पटेल एवं पर्यटन व संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने एक अलग रोड शो को होस्ट किया। यह रोड शो उत्तर प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में संभावनाओं को समर्पित रहा। इसमें दक्षिण कोरिया के तमाम टूर ऑपरेटर्स व बिजनेस हाउसेज ने अपनी रुचि दिखाई। उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधिमंडल ने दक्षिण कोरिया के औद्योगिक समुदाय से प्रदेश के साथ बेहतर व्यापारिक और सांस्कृतिक संबंधों को बढ़ाने पर चर्चा की। इस रोड शो के माध्यम से दक्षिण कोरिया के पर्यटकों को उत्तर प्रदेश की ओर आकर्षित करने का प्रयास किया गया। उत्तर प्रदेश की संस्कृति, यहां की कला, बोली और पर्यटन स्थलों के साथ उन्हें जोड़ने के लिए निवेशकों का आह्वान किया गया। यह प्रतिनिधिमंडल बुधवार को जापान के टोक्यो भी पहुंचा जहां रोड शो का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जापान के निवेशकों को उत्तर प्रदेश में निवेश के अवसरों के बारे में जानकारी दी गई और ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए आमंत्रित किया गया।

Also Read: डिजिटल प्लेटफाॅर्म से विद्युत उपभोक्ताओं को जागरूक कर रही योगी सरकार, आप भी जान लीजिए ये फायदे

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )