Breaking Tube
Politics

इस मुद्दे को लेकर भाजपा से बगावत करने की तैयारी में साक्षी महाराज

भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता कहे जाने वाले सांसद साक्षी महाराज ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर अनशन पर बैठे संतों के बीच बड़ी बात कही है। बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ बगावती सुर अपनाते हुए कहा है कि अगर 2019 से पहले अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर नहीं बना तो भाजपा से बगावत करेंगे।

 

राम मंदिर पर संतों के साथ साक्षी महाराज

सूत्रों ने बताया कि साक्षी महाराज ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अगर 2019 से पहले तक अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर नहीं बनवाती है तो वह बीजेपी से बगावत करने में पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के मुद्दे पर वह संतों के साथ खड़ें हैं और उनके पक्ष में हैं। इस दौरान साक्षी महाराज ने कहा कि अगर केंद्र सरकार इस पुनीत कार्य में कदम आगे नहीं बढ़ाती है तो वह संतों के साथ खड़े होंगे।

 

Also Read : राम मंदिर के लिए राम परमहंस दास के आमरण अनशन का दूसरा दिन, बोले- ‘मंदिर न बना तो दे दूंगा प्राण’

साक्षी महाराज ने कहा कि आज मैं जो कुछ भी हूं, भगवान श्रीराम की कृपा से हूं। भाजपा पर भी भगवान श्रीराम की बड़ी कृपा है। भाजपा आज जिस मुकाम पर पहुंची है, उसके पीछे राम जी कृपा और संतों का बहुत बड़ा योगदान है। ऐसे में साफ है कि साक्षी महाराज राम मंदिर के मुद्दे पर सरकार और पार्टी के बजाय संतों के साथ खड़े हैं। उन्होंने बताया कि 5 अक्टूबर के विश्व हिन्दू परिषद की शीर्ष बैठक में शंकराचार्य की उपस्थित में संतों ने सरकार से अपनी नाराजगी को जता दी है।

 

तीन तलाक पर अध्यादेश तो राम मंदिर पर क्यों नहीं

साक्षी महाराज ने बताया है कि संतों का साफ कहना है जब सरकार तीन तलाक के लिए अध्यादेश ला सकती है तो राम मंदिर के लिए क्यों नहीं। उन्होंने यह भी बताया है कि तीन और चार नंवबर को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में धर्मादेश सम्मेलन होगा, यहां देश भर के पांच हजार धर्माचार्य शामिल होंगे। साक्षी महाराज ने कहा कि सम्मेलन में सरकार से मंदिर के लिए मार्ग प्रशस्त करने की मांग होगी, उसके बाद भी मंदिर निर्माण की पहल नहीं होती है तो संत समाज 6 दिसंबर से मंदिर का निर्माण शुरू कर देंगे।

 

Also Read: बागपत: ऐलान के बाद मुस्लिम परिवार के 13 सदस्यों ने अपनाया हिन्दू धर्म, ‘सहिष्णुता’ को बताया वजह

 

राम मंदिर का मुद्दा 2019 लोकसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही एक बार फिर सुर्खियों में है। साक्षी महाराज ने कहा कि दिल्ली की बैठक में संतों ने भाजपा के खिलाफ नाराजगी जताई है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट आदेश करे या सरकार अध्यादेश लाये, छह दिसम्बर के बाद संत समाज राम मंदिर के निर्माण की शुरुआत अयोध्या में करेंगे।

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

सपा MLA नाहिद हसन के विवादित बयान के समर्थन में उतरे आजम खान, बोले- शुरू किसने किया ? हमें तो रोक लिया गया था पाकिस्तान जाने से..

BT Bureau

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्विटर प्रोफाइल से हटाया ‘कांग्रेसी’ परिचय, नाराजगी की अटकलें तेज

BT Bureau

BJP पर बरसे अखिलेश, बोले- कुछ पूंजीपतियों के लिए कैसे भोले किसानों पर अत्याचार कर रही भाजपा, सारा देश देख रहा

Jitendra Nishad