जम्‍मू-कश्‍मीर: छुट्टी पर जा रहे जवान का आतंकियों ने किया अपहरण

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकियों ने अपनी कायरता का एक और परिचय देते हुए भारतीय सेना के एक जवान का अपहरण कर लिया है। घटना के बाद पूरे इलाके को घेर कर जवान की तलाश शुरू कर दी गई है। हालांकि अभी तक जवान का कोई पता नहीं चल सका है। वहीं पुलवामा में अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार जम्मू संभाग के पुंछ जिले का रहने वाले औरंगजेब भारतीय सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल के साथ शादीमर्ग में तैनात था। आज वह वीरवार को छुट्टी लेकर अपने घर जाने वाले थे। सुबह नौ के बजे वह शादीमर्ग कैंप से बाहर निकले और प्राइवेट टैक्सी से शोपियां के लिए चल पड़े।

इसी बीच उनकी गाड़ी जैसे ही कलमपोरा पहुंची 4-5 आतंकी उनके वाहन के सामने आ गए और बंदूक के दम पर उन्हें अपने साथ ले गए। उसके बाद से उनका कोई पता नहीं चला सका है। सेना के अधिकारियों ने मालमे को गंभीरता के साथ लेते हुए छानबीन शुरू कर दी है। स्थानीय पुलिस भी जवान का पता लगाने में जुटी है।

सूत्रों की मानें तो जवान के अपहरण के पीछे हिजबुल आतंकियों का हाथ हो सकता है। हालांकि इस बारे में अभी कोई भी आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। दक्षिण कश्मीर को हिजबुल आतंकियों का ही गढ़ माना जाता है। पिछले महीने हुए कई एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने हिजुबल के बड़े कमांडरों को मार गिराया था। जिसके बाद से हिज्ब बौखलाया हुआ है।

अपहरण किया गया जवान, चर्चित मेजर शुक्ला की टीम में भी शामिल था। मेजर शुक्ला की टीम में जवान की पहचान तेज तर्रार जवानों में से एक थी। वहीं सूत्रों के अनुसार हाल ही हिजबुल कमांडर समीर टाइगर के मार गिराने के ऑपरेशन में भी जवान मेजर शुक्ला के साथ ही शामिल था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here