BJP से समझौते के तहत अखिलेश को गुमराह कर समाजवादी पार्टी को नुकसान पहुंचा रहे रामगोपाल: सपा विधायक

0
9

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले से समाजवादी पार्टी के विधायक और मुलायम सिंह यादव के समधी हरिओम यादव ने पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव पर गंभीर आरोप लगाए हैं। रामगोपाल यादव पर आरोप है कि वो अखिलेश यादव को गुमराह कर समाजवादी पार्टी का बेड़ा गर्क कर रहे हैं। हरिओम यादव ने कहा है कि यादव सिंह घोटाले में सीबीआई से खुद को और अपने बेटे को बचाने के लिए रामगोपाल यादव बीजेपी से गोपनीय तरीके से समझौता कर चुके हैं।


शिवपाल को गुमराह कर सपा को नुकसान पहुंचा रहे रामगोपाल

सूत्रों के मुताबिक, सपा विधायक हरिओम यादव ने कहा है कि रामगोपाल यादव बीजेपी से हुए समझौते के तहत अखिलेश यादव को लगातार गुमराह कर समाजवादी पार्टी को नुकसान पहुंचा रहे हैं। उनका कहना है कि रामगोपाल यादव की वजह से ही शिवपाल सिंह यादव जैसे पार्टी के पुराने भरोसेमंद नेताओं को नई पार्टी बनानी पड़ी है।


Also Read: शिवपाल बोले- अखिलेश-मायावती दोनों धोखेबाज हैं, एक ने पिता और दूसरे ने भाई को दिया धोखा, BJP को हम ही हराएंगे


मुलायम सिंह यादव के समधी हरिओम यादव ने कहा कि जिस तरह रामायण में मंथरा और महाभारत में शकुनि की वजह से राजपरिवार के सदस्यों के बीच मतभेद उत्पन्न हो गया था, उसी तरह राम गोपाल यादव मुलायम सिंह के परिवार में मतभेद उत्पन्न कर रहे हैं।


गौरतलब है कि हाल ही में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक सिंह ने भी रामगोपाल यादव पर जबरदस्त हमला किया था। उन्होंने कहा कि रामगोपाल यादव समाजवादी पार्टी को ख़त्म करने की सुपारी लिए हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि रामगोपाल अपने बेटे के साथ प्रधानमंत्री से होटलों में मिला करते हैं और उन्हें केक भी खिलाते हैं।


हरिओम यादव ने उठाए थे रामगोपाल पर सवाल

इससे पहले राम गोपाल यादव पर हमला बोते हुए हरिओम यादव ने कहा था कि जिनके घर में सन 90 में झोपड़ी तक नहीं थी उनके 18 बंगले नोएडा,गाजियाबाद में कहाँ से आ गए। कल टूटी चप्पले पहनते थे, टूटे स्कूटर पर चलते थे वो आज 2-2 करोड़ की गाडियों पर चल रहे हैं। तो हिसाब दो कहाँ से लाये हो और कहाँ से चोरी की है।


Also Read: Video: कल तक टूटे स्कूटर पर चलने वाले राम गोपाल यादव आज 2 करोड़ की गाड़ी पर कैसे चल रहे, कहाँ चोरी की है बताएं: सपा विधायक


सपा विधायक ने रामगोपाल पर हमलावर होते हुए कहा कि इनके पुत्र अक्षय यादव के सांसदी जीतेने के बाद जिले में अबैध शराब की गाड़ियाँ उतर रही हैं और यह सब कारोबार सिरसागंज के बीजेपी के एक पूर्व मंत्री के साथ में धड़ल्ले से चल रहा है। उन्होंने मंच से कहा कि इन दोनों पिता पुत्र के कमीशन के चक्कर में ही जेडा झाल की परियोजना अधर में अटकी पड़ी है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here