Breaking Tube
Corona

14 दिन क्वारंटीन के बाद भी फैल रहा संक्रमण, परिवार में नहीं फैलेगा कोरोना बस रखें ये सावधानियां

uttar pradesh corona

देश में एक बार फिर से कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है। इसी के चलते डॉक्टर्स लगातार लोगों को सावधान रहने की राय दे रहे हैं। राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां स्थिति एक बार फिर से इतनी विकट हो चुकी है कि दोबारा लॉकडाउन की स्थितियां बन रही हैं। विशेषज्ञों की मानें तो इस समय सावधानी बरतना खुद के लिए और आपके परिवार के लिए बेहद आवश्यक है। इसलिए हम कुछ टिप्स ऐसे भी बता रहे हैं जो होम क्वारांटीन रहने वालों के लिए अपनाना अनिवार्य है।


इन बातों का रखें ख्याल

जानकारी के मुताबिक, यदि आप होम क्वारंटाइन हो रहे हैं तो आपको आमतौर पर 14 दिन के लिए क्वरांटाइन में रहने की सलाह दी जाती है। क्योंकि इतने समय में इलाज के दौरान यह वायरस या तो पूरी तरह खत्म हो जाता है या फिर इसके लक्षण अधिक तेजी से उभरकर सामने आ जाते हैं। इसलिए आपको कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद जरूरी है।


Also Read: UP में पत्रकारों की मदद के लिए ‘पत्रकार कल्याण योजना’ लागू, मिलेंगी ये सुविधाएं


-बेहतर होगा कि 14 दिन के बाद भी आप कम से कम 1 और सप्ताह के लिए खुद को पब्लिक प्लेस और फैमिली गेट-टु-गेदर से दूर रखें। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि कई स्टडीज में यह बात सामने आ चुकी है कि कोरोना के लक्षण ठीक होने के बाद भी यह वायरस कई दिनों तक शरीर के अंदर जीवित रहता है। इस स्थिति में यह परिवार के अन्य लोगों को अपनी चपेट में ले सकता है।


-अमेरिकन थोरेसिस सोसायटी पर जारी किए गए एक अध्ययन में इस पर पूरी जानकारी दी गई है कि कैसे क्वारंटाइन के 14 दिनों के बाद भी कोरोना वायरस किसी स्वस्थ व्यक्ति को संक्रमित कर सकता है।


-यह रिसर्च डायग्नोसिस ऐंड मैनेजमेंट ऑफ कोविड-19 डिजीज के नाम से पब्लिश की गई की गई है। रिपोर्ट में कहा गया कि किसी भी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति को ठीक हो जाने के बाद केवल 14 दिनों तक का क्वॉरेंटाइन टाइम ठीक नहीं होगा बल्कि इससे संक्रमण के फैलने का खतरा भी रहता है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने UP के 5 शहरों में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का दिया आदेश, योगी सरकार बोली- अभी जरूरत नहीं

BT Bureau

UP में कोरोना ने ध्वस्त किए सारे रिकॉर्ड, 24 घंटे में 34,379 नए केस, 195 की मौत

BT Bureau

Covid-19: अब तबलीगी जमातियों को जानकारी छिपाना पड़ेगा भारी, चलेगा हत्या और हत्या के प्रयास का मुकदमा

Jitendra Nishad